अफगानिस्तान में तालिबान के बढ़ते प्रसार के बीच राष्ट्रपति अशरफ गनी का संबोधन, कहा – पिछले 20 वर्षों की ‘उपलब्धियों’ को जाया नहीं होने दूंगा

237

अफगानिस्तान में तालिबान के बढ़ते आतंक के बीच आज राष्ट्रपति अशरफ गनी ने देश को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि देश में अस्थिरता का गंभीर ख़तरा। साथ ही उन्होंने अफगानी लोगों को भरोसा दिलाया कि आगे इसे रोका जाएगा। अशरफ गनी ने हमने घरेलू और वैश्विक स्तर पर बड़े पैमाने पर सलाह मशवरा शुरू करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि जो भी नतीजे सामने आएंगे, जल्द ही लोगों के साथ साझा किया जाएगा।

TOLOnews द्वारा रिपोर्ट के अनुसार, देश के नाम अपने संबोधन में राष्ट्रपति गनी ने कहा कि मौजूदा स्थिति में, अफगान सुरक्षा और रक्षा बलों को फिर से संगठित करना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है।

उन्होंने कहा, ”मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि आपके राष्ट्रपति के रूप में मेरा ध्यान लोगों की अस्थिरता, हिंसा और विस्थापन को रोकने पर है। मैं आगे हत्याओं, पिछले 20 वर्षों के उलब्धियों को हानि पहुंचाने और सार्वजनिक संपत्ति के विनाश के लिए अफगानों पर थोपे गए युद्ध की अनुमति नहीं दूंगा।”

अफगानिस्तान में तांडव मचा रहा तालिबान काबुल के और करीब पहुंचा
अफगानिस्तान में एक बाद एक नए शहरों पर कब्जा जमा रहे तालिबान को एक और कामयाबी मिली है। हेरात, कंधार, हेलमंद के बाद अब तालिबान ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के दक्षिण में स्थित लोगार प्रांत पर कब्जा कर लिया है। अफगानिस्तान के एक सांसद होमा अहमदी ने कहा कि तालिबान ने पूरे प्रांत पर कब्जा कर लिया है, जिसमें उसकी राजधानी भी शामिल है और वह शनिवार को पड़ोसी काबुल प्रांत के एक जिले में पहुंच गया। बता दें कि तालिबान देश के समूचे दक्षिणी भाग पर अपना नियंत्रण स्थापित कर लिया और धीरे-धीरे काबुल की तरफ बढ़ रहा है।