जहां चाह वहीं राह : देश की बेटी सानिया मिर्ज़ा बनीं पहली मुस्लिम महिला फाइटर पायलट..

197
sania
sania

हर किसी को जीवन में कुछ कर जाने की चाह होती हैं और कहते हैं ना जहां चाह वहीं राह अगर कोई ये ठान ले की हमे इस काम को पूरा करना हैं या अपने सपने को पूरा करना चाहता हैं तो फिर उसे दुनिया की कोई ताकत नहीं रोक सकती हैं फिर वो अपने रास्ते खुद ही ढूंढ लेता हैं दरअसल अब आप सोच रहे होंगे आज हम इतनी बड़ी-बड़ी बात क्यों कर रहे हैं जी हाँ यूपी के मिर्जापुर की लड़की सानिया मिर्जा ने देश की पहली मुस्लिम महिला फाइटर पायलट होने का गौरव हासिल किया है इसके साथ ही बा उत्तर प्रदेश की पहली लड़की है जो फाइटर पायलट बनेगी भारतीय वायु सेना की ओर से सानिया मिर्जा को जॉइनिंग लेटर मिल चुका है और 27 दिसंबर को पुणे के खड़गवासला में एनडीए एकेडमी जॉइन करेगी

दरअसल सानिया मिर्जापुर के जसोल गांव के रहने वाले शाहिद अली की बेटी है पिता शाहिद अली एक टीवी मैकेनिक शाहिद अली की बेटी सानिया ने नेशनल डिफेंस एकेडमी की परीक्षा में सेलेक्ट हुई है उसे महिलाओं के लिए आरक्षित 19 सीटों पर दूसरा स्थान मिला है इससे पहले भी सानिया ने एनडीए की परीक्षा दी थी लेकिन तब कामयाब नहीं हो पाई थी दूसरी बार में उन्होंने परीक्षा पास की सानिया ने प्राइमरी से लेकर 10वीं तक की पढ़ाई गांव के पंडित चिंतामणि दुबे इंटर कॉलेज से पूरी की इसके बाद 12वीं तक की पढ़ाई गुरु नानक इंटर कॉलेज से हुई सानिया शुरू से ही होनहार थी उन्होंने 12वीं में जिला टॉप किया था सानिया ने इसके बाद सेंचुरियन डिफेंस एकेडमी से एनडीए की तैयारी की थी

फिलहाल सानिया ने 10 अप्रैल 2022 को एनडीए एग्जाम पास किया इसके बाद नवंबर में जारी लिस्ट में भी उनका नाम है वहां 27 दिसंबर को पुणे के खड़गवासला में ड्यूटी ज्वाइन करेंगे सानिया ने बचपन से ही एयरफोर्स में जाने और फाइटर पायलट बनने का सपना देखा था और उनकी मेहनत आखिरकार रंग लाई उसकी इस कामयाबी से उनके माता-पिता के अलावा पूरा जिला फक्र कर रहा है