काशी की तर्ज पर अयोध्या में बनेगा वाटरवे, राम नगरी में CM आदित्यनाथ ने की घोषणा..

105
cm yogi
cm yogi

भगवान राम की जन्म स्थली अयोध्या वैसे तो मठ मंदिरों की वजह से पूरे विश्व में विख्यात है. पूर्ववर्ती सरकारों ने जिस अयोध्या को उपेक्षित छोड़ा, आज उसी अयोध्या में विकास की ऐसी गंगा बही है कि अयोध्या की तकदीर ही नहीं, तस्वीर भी बदलती जा रही है. एक तरफ भव्य मंदिर का निर्माण अपने प्रगति पर है, तो दूसरी तरफ हजारों करोड़ों रुपए की परियोजनाएं इन दिनों राम नगरी में परवान चढ़ रही हैं.

दरअसल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जब से मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है तब से अयोध्या उनकी प्राथमिकताओं में है. शायद यही वजह है कि अयोध्या के विकास के विकास की योजनाओं की देखरेख खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करते हैं. धार्मिकता के साथ-साथ पर्यटन की दृष्टि से भी अयोध्या विश्व के मानचित्र पर निरंतर स्थापित हो रही है. शायद यही वजह है कि आप काशी के तर्ज पर अयोध्या में भी वाटर बे का संचालन सरयू नदी से शुरू किया जाएगा.

अयोध्या के सरयू नदी में भी वाटरवे बनाया जाएगा

नगर निकाय चुनाव में प्रबुद्ध वर्ग और संत महंतों को साधने के लिए सीएम अयोध्या पहुंचे. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि काशी की तर्ज पर अयोध्या के सरयू नदी में भी वाटरवे बनाया जाएगा. इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि यह वाटर वे पूर्वी बंदरगाहों से भी जोड़ा जाएगा. इससे पर्यटक तो बढ़ेंगे ही साथ ही अयोध्या में एक्सपोर्ट की भी संभावना बढ़ेगी. जिस तरह काशी में बड़े-बड़े जलयान आ रहे हैं, उसी तरह अब अयोध्या में भी वाटर बे बनाने की तैयारी शुरू की गई है .