प्रभात गुप्ता हत्याकांड में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी बरी, हाईकोर्ट ने दिया फैसला..

250

आज से 23 साल पहले हुए प्रभात गुप्ता हत्याकांड में केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा ‘टेनी’ बरी हो गए हैं। उन्‍हें इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने बरी कर दिया है। टेनी और तीन अन्‍य इस मामले में आरोपी थे। चारों को लखनऊ बेंच ने बरी कर दिया है। जस्टिस एआर मसूदी और ओपी शुक्ला की बेंच ने यह फैसला सुनाया।

लखनऊ बेंच ने हत्याकांड में 3 बार फैसला सुरक्षित रखा

8 जुलाई 2000 को लखीमपुर में लखनऊ यूनिवर्सिटी के छात्र नेता प्रभात गुप्‍ता को गोली मार दी गई थी। इस मामले में केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री अजय मिश्रा टेन के अलावा सुभाष मामा, शशि भूषण पिंकी, राकेश डालू हत्‍या के आरोपी थे। इससे पहले लखनऊ बेंच ने हत्याकांड में 3 बार फैसला सुरक्षित रखा, लेकिन फैसला नहीं सुनाया था।