लखनऊ में नौकरी ना मिलने से परेशान युवक ने फांसी लगाकर दी जान..

28
suicide

निगोहां थाना क्षेत्र के करनपुर गांव में शनिवार को नौकरी ना मिलने से परेशान युवक ने फांसी लगाकर जान दे दी‌।परिजनो की सूचना के बाद इंस्पेक्टर ने पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल के बाद शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिये भेजा।मृतक की जेब से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला जिसमें नौकरी ना मिलने से परेशान होकर आत्महत्या किये जान देने की बात लिखी थी।

परिजन मौके पर पहुंचे तो कोहराम मच गया

दरअसल निगोहां के करनपुर गांव में रिटायर्ड रेलवेकर्मी हनुमान रावत ने बताया बेटा दिलीप रावत( 34वर्ष) शुक्रवार की सुबह आठ बजे घर से बिना बताये चला गया था लेकिन देर रात तक वापस नही लौटा,शनिवार की सुबह खोजबीन शुरू की गयी तो गांव के बाहर बनी उनकी मार्केट के पीछे बनी फूस की झोपड़ी में लगी बांस बल्ली में गमछे के सहारे बेटे दिलीप का शव लटकता हुआ मिला। जिसके बाद परिजन मौके पर पहुंचे तो कोहराम मच गया।सूचना पाकर इंस्पेक्टर विनोद यादव ने पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की।वही डांग स्क्वायर्ड व फिगंर प्रिंट एक्सपर्ट की टीमो ने भी मौके पर पहुंचकर जांच की।जिसके बाद पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिये भेजा।पीड़ित पिता ने अज्ञात लोगो पर बेटे की हत्या कर शव को फांसी के फंदे से लटकाये जाने का आरोप लगाते हुये तहरीर दी।

फ़िलहाल इंस्पेक्टर विनोद यादव ने बताया जामा तलाशी के दौरान मृतक की जेब से एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें उसने नौकरी ना मिलने के चलते क्षुब्ध होकर आत्महत्या किये जाने की बात लिखी हुयी थी।पीएम में मौत का कारण स्पष्ट होने के बाद आगे की कार्यवाही की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here