1 जनवरी से बदल जाएंगे आपके डेबिट और क्रेडिट कार्ड के ये नियम, जानिए इससे जुड़ी सभी बातें

325

देश में वन नेशन वन कार्ड स्कीम के तहत भारतीय कंपनी रूपए कॉन्टैक्टलेस डेबिट और क्रेडिट कार्ड्स जारी की थी.. इन कार्ड्स की मदद से आप पब्लिक ट्रांस्पोर्ट से लेकर शॉपिंग मॉल तक में आसानी से भुगतान कर सकते है. वहीं भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को कॉन्टैक्टलेस कार्ड पेमेंट के नियम में बड़ा बदलाव किया है. जिसके तहत अब आप कॉन्टैक्टलेस डेबिट और क्रेडिट कार्ड्स से अधिकतम 5 हजार रुपये तक का भुगतान बिना किसी पिन के आसानी से कर सकेंगे. ये सुविधा 1 जनवरी 2021 से पूरे देश में लागू होगी. आपको बता दें अभी तक कॉन्टैक्टलेस डेबिट और क्रेडिट कार्ड्स से केवल अधितम 2 हजार रुपये का भुगतान बिना पिन के किया जा सकता था.

रूपए द्वारा पावर्ड इस कार्ड को नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड के तौर पर यूज किया जा सकता है. आपको बता दें कि यह कार्ड एक स्मार्ट कार्ड की तरह होता है. आपको बता दें दिल्ली मेट्रो में ऐसा ही कार्ड चलता है, जिसे आप रिचार्ज कराते हैं और मेट्रो में सफर कर सकते हैं. अब देश के सभी बैंक रूपए जो भी नए डेबिट और क्रेडिट कार्ड जारी करेंगे उनमे नेशनल कॉमन मोबेलिटी कार्ड फीचर होगा. ये किसी और वॉलेट की तरह ही काम करेंगे.

 इस कार्ड को पाने के लिए आपको अपने बैंक से संपर्क करना होगा. ये 25 बैंकों में उपलब्ध होने के साथ ही यह कार्ड पेटीएम पेमेंट बैंक द्वारा भी जारी किया जाता है. इस कार्ड को एटीएम पर इस्तेमाल करने पर 5 प्रतिशत का कैशबैक और विदेश यात्रा के दौरान मर्चेंट आउटलेट पर भुगतान करने पर 10 प्रतिशत का कैशबैक मिलता है. रुपे का यह कार्ड डिस्कवर और डाइनर्स क्लब इंटरनैशनल मर्चेंट्स के अलावा विदेश के एटीएम पर भी स्वीकार किया जाता है. इस कार्ड को एसबीआई, पीएनबी समेत देशभर के 25 बैंक उपलब्ध कराते हैं.

इन सभी कार्ड्स पर एक खास निशान बना होता है. वहीं, जिन पेमेंट मशीनों पर इनका इस्तेमाल होता है. वहां भी एक खास चिह्न बना होता है. इस मशीन पर करीब 4 सेंटीमीटर की दूरी पर कार्ड रखना या दिखाना होगा और आपके खाते से पैसे कट जाएंगे. कार्ड को स्वाइप या डिप करने की जरूरत नहीं होगी और न ही पिन एंटर करना होगा.

1 जनवरी के बाद 5 हजार रुपये से ज्यादा की पेमेंट के लिए ही पिन या ओटीपी लगेगा. यानी आपका कार्ड किसी और के हाथ लग जाए तो वह एक बार में कम से कम 5 हजार रुपए तक की शॉपिंग कर सकता है. हो सकता है कि जब तक आपको इसका पता चले, तब तक वह आपके खाते से इससे ज्यादा पैसे उड़ा चुका हो.