तोते ने बताया था हत्यारे का नाम, 9 साल बाद मामी को मिला इंसाफ..

238

ताजनगरी आगरा में पत्रकार की पत्नि की हत्या के मामले में 9 साल बाद परिवार को इंसाफ मिला है. जिला न्यायलय ने इस मामले में मृतका के भांजे समेत दो दोषियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. साल 2014 में आगरा के थाना न्यू आगरा क्षेत्र में पत्रकार विजय शर्मा की पत्नी की हत्या कर दी गई थी. पत्नी के साथ उनके पालतू कुत्ते की भी हत्या की गई थी.

दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई

दरअसल इस मामले में कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया और 9 साल बाद आरोपी रॉनी और आशुतोष को दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई. 9 साल बाद आए फैसले में पालतू तोते की भूमिका काफी अहम रही. वारदात के बाद से ही पुलिस अपराधियों की तलाश में जुटी थी, लेकिन कोई सुराग हाथ नहीं लग रहा था. लेकिन घर में पले पालतू तोते मिट्ठू बार बार मृतका के भांजे का नाम ले रहा था. जिसके बाद जब पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तप उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया