सरकारी जमीने कब्जाने वाली पदमजा इंफ्रा बिल्ड का एसीपी कार्यालय से नही हटा बोर्ड..

19
lucknow
lucknow

लखनऊ पुलिस की बेदाग छवि को दक्षिणी जोन के मोहनलालगंज सर्किल के एसीपी धर्मेन्द्र सिहं रघुवंशी धूमिल करने में जुटे है,पुलिस कमिश्नर एस बी शिरोडकर के हर क्राइम मीटिगं में दिये जाने वाले पुलिस की छवि सुधारने के आदेश भी बेमानी साबित हो रहे है,मोहनलालगंज एसीपी सरकारी जमीने कब्जाने वाले बिल्डर से इस कदर प्रभावित है कि उनके कार्यालय के मुख्य गेट पर लगा पदमजा इंफ्रा बिल्ड प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी का बोर्ड समाचार पत्रो में खबरे छपने के बाद भी नही हट सका,जब कि खबरो को संज्ञान लेकर अफसरो ने तत्काल बोर्ड हटाने के निर्देश दिये थे,ऎसे में चर्चा है एसीपी का रसूख ऎसा है कि वो मनमानी पर उतारू है,अफसरो के आदेश भी उन्होने ताक पर रख दिये, ओर बिल्डर की कम्पनी का कार्यालय पर लगा बोर्ड नही हटाया।क्षेत्रीय लोगो का आरोप है एसीपी कार्यालय पर आने वाली शिकायतों पर जांच कर कार्यवाही के आदेश देने की बजाय प्रभाव में आकर तत्काल निर्दोषो पर मुकदमा दर्ज कराने का काम कर रहे है।जिसको लेकर क्षेत्रीय लोगो में आक्रोश व्याप्त है।

सरकारी जमीनो पर कब्जा कर प्लाट काट कर बेच दिये

दरअसल मोहनलालगंज तहसील के भावाखेड़ा में प्लाटिगं कर रही पदमजा इन्फ्रा बिल्ड प्राइवेट लिमिटेड के मालिक ने सरकारी जमीनो पर कब्जा कर प्लाट काट कर बेच दिये थे,प्रधान की शिकायत पर एसडीएम द्वारा करायी गयी जांच में तीन सरकारी चकमार्गो व नाली दर्ज जमीनो पर अवैध कब्जा मिला था,जिसे हटा दिया गया था,लेकिन सरकारी जमीने कब्जाने वाली कम्पनी का‌ मोहनलालगंज एसीपी धर्मेन्द्र सिहं रघुवंशी के कार्यालय के मुख्य गेट पर लगा बोर्ड लगा समाचार पत्रो में खबरे छपने के बाद भी नही हट सका।जब कि अफसरो ने किरकिरी होने पर बिल्डर के बोर्ड को तत्काल हटाने के निर्देश दिये थें।ऎसे में क्षेत्रीय लोगो में चर्चा है सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ व लखनऊ कमिश्नरेट की बेदाग छवि को बिल्डर पर अपनी मेहरबानी दिखाकर एसीपी धूमिल करने में जुटे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here