अफगानिस्तान के हालातों पर खुश होने वाले पाकिस्तान पर तालिबान कर रहे कब्ज़ा..

55
pak
pak

अफगानिस्तान पर जब तालिबान ने कब्जा किया था, तब पाकिस्तान बहुत खुश हुआ था. पाकिस्तान को लगता था कि वो तालिबान के सहारे भारत से जंग करेगा. हालांकि, उसका ये सपना अब टूटता नजर आ रहा है. पाकिस्तान और तालिबान के बीच तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है. जानकारी के मुताबिक तालिबान ने पाकिस्तान पर हमला कर दिया है. तालिबान आतंकवादियों ने रविवार (18 दिसंबर) को पाकिस्तान के अशांत खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बन्नू जिले में हमला बोल दिया और एक काउंटर टेररिज्म सेंटर (CTC) पर कब्जा कर लिया. पाकिस्तानी पुलिस के मुताबिक, तालिबानी आतंकियों ने कई जवानों को बंधक बना लिया है. एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई है.

आतंकवादियों ने छावनी में घुसपैठ की
पाकिस्तान की पुलिस ने बताया, “आतंकवादियों ने छावनी में घुसपैठ की और वहां कैद वांछित आतंकवादियों को मुक्त करा लिया है. इस दौरान उन्होंने कुछ जवानों को भी बंधक बना लिया है. आतंकियों ने खतरनाक हथियार से हमला किया, जिसमें हैंड ग्रेनेड और रॉकेट लॉन्चर भी शामिल हैं. CTD सुरक्षा कर्मियों को बंधक बनाकर परिसर के एक हिस्से को अपने नियंत्रण में ले लिया है.”पाकिस्तान की ओर से तुरंत उस इलाके में सेना के जवानों को भेजा गया है. पाकिस्तानी सेना के जवानों ने उस पूरे इलाके को सील कर दिया गया है. स्थानीय निवासियों को घर के अंदर रहने के लिए कहा गया है.

सीटीडी परिसर के अंदर से एक वीडियो जारी किया
टीटीपी उग्रवादियों ने सीटीडी परिसर के अंदर से एक वीडियो जारी किया है. इस वीडियो में उन्होंने दावा किया कि 9 पुलिस कर्मी कैद में हैं. बंधकों को रिहा करने के लिए आतंकियों ने हवाई मार्ग से अफगानिस्तान जाने के लिए सुरक्षित मार्ग देने की मांग की है. खैबर पख्तूनख्वा मुख्यमंत्री के विशेष सहायक बैरिस्टर मोहम्मद अली सैफ ने बताया कि कुछ संदिग्धों को हिरासत में भी लिया गया है. गिरफ्तार किए गए लोगों ने घटनास्थल पर तैनात सुरक्षाकर्मियों से हथियार छीनने की कोशिश की थी. उन्होंने कहा, “स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है. सुरक्षा बलों ने इलाके की घेराबंदी कर दी है. ऑपरेशन चल रहा था और थोड़ी देर में पूरा हो जाएगा.”

सात सुरक्षाकर्मियों से बंदूकें छीनकर बंधक बना लिया
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के हवाले से डॉन डॉट कॉम ने बताया कि प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों के लगभग 25 सदस्य गिरफ्तार किए गए हैं. इन लोगों ने CTD केंद्र पर तैनात सात सुरक्षाकर्मियों से बंदूकें छीनकर बंधक बना लिया था. अब इन लोगों से पूछताछ की जा रही है. दूसरी तरफ पुलिस के मुताबिक एक अन्य घटना में दक्षिणी वजीरिस्तान में थाने पर हमले में कम से कम चार पुलिसकर्मियों की मौत हो गई है.

फ़िलहाल 2007 में कई उग्रवादी संगठनों ने मिलकर टीटीपी की स्थापना की थी. यह आतंकवादी समूह अलकायदा का हिस्सा है. इस संगठन ने पिछले महीने ही पाकिस्तानी सरकार के साथ किया गया संघर्ष विराम को वापस ले लिया था और अपने उग्रवादियों को देश भर में आतंकवादी हमले करने का आदेश दिया. यह संघर्ष विराम समझौता जून में किया गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here