Sputnik V Vaccine का भारत में प्रोडक्‍शन शुरू

198

रूस में विकसित कोविड-19 वैक्सीन स्पुतनिक वी का भारत में प्रोडक्‍शन शुरू हो गया है. रूस के इनवेस्‍टमेंट फंड रसियन डारेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड और भारत की दवा कंपनी पैनेसिया बायोटेक ने सोमवार 24 मई को भारत में स्पुतनिक-वी कोरोना वायरस टीके का प्रोडक्‍शन शुरू करने का एलान किया. स्पुतनिक वी को भारत में 12 अप्रैल 2021 को इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति के साथ रजिस्‍टर्ड किया गया. साथ ही कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये 14 मई से टीकाकरण अभियान में इसका इस्तेमाल भी शुरू कर दिया गया.

आरडीआईएफ और पैनेसिया बायोटेक ने एक संयुक्त बयान जारी कर कहा कि स्पुतनिक वी की पहली खेप का उत्पादन पैनेसिका बायोटेक के हिमाचल प्रदेश के बद्दी में शुरू हुआ है. वैक्सीन के पहले बैच को क्वॉलिटी कंट्रोल की जांच के लिए रूस के गामालेया सेंटर में भेजा जाएगा. रूस में विकसित स्पुतनिक वी वैक्सीन को भारत सरकार ने 12 अप्रैल 2021 को इमरजेंसी अप्रूवल दिया था. देश में इस वैक्सीन के जरिए टीकाकरण की शुरुआत 14 मई को हुई है. फुल स्‍ट्रेंथ पर प्रोडक्‍शन इन गर्मियों में ही शुरू होने की उम्मीद है. आरडीआईएफ के मुख्य कार्यकारी किरिल्ल डमित्रिव ने कहा, ‘‘पैनेशिया बायोटेक के साथ मिलकर भारत में उत्पादन की शुरुआत देश को महामारी से लड़ने में मदद की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है. ’’ उन्होंने कहा कि स्पुतनिक-वी टीके का उत्पादन शुरू होने से भारत को कोरोना वायरस महामारी के संकटपूर्ण दौर से निकालने के सरकार के प्रयासों को समर्थन मिलेगा. बाद में टीके का दूसरे देशों को एक्‍सपोर्ट भी किया जा सकेगा ताकि दुनिया के अन्य देशों में भी महामारी के प्रसार को रोका जा सके.

पैनेशिया बायोटेक के एमडी राजेश जैन ने कहा, ‘‘स्पुतिनक-वी का उत्पादन शुरू होना एक अहम कदम है. आरडीआईएफ के साथ मिलकर हम उम्मीद करते हैं देश के लोग फिर से सामान्य स्थिति महसूस कर सकें साथ ही दुनिया के देशों में भी स्थिति सामान्य करने में मदद मिलेगी. ’’

कंपनी के बयान के मुताबिक, 5 दिसरंब 2020 से 31 मार्च 2021 के बच रूस में स्‍पुतनिक वी के दोनों कंपोनेंट की डोज के बाद कोरोना संक्रमण के आंकड़ों की एनालसिस में इसे 97.6 फीसदी कारगर पाया गया है. फिलहाल, स्‍पुतनिक वी 66 देशों में इस्‍तेमाल के लिए रजिस्‍टर्ड है. रूस की इस वैक्‍सीन को कन्‍वेंशनल रेफ्रिजरेटर में स्‍टोर किया जा सकता है.