स्पेशल सेल के अधिकारियों को मिली वाई श्रेणी की सुरक्षा, सुलझाया था मुसेवाला का केस..

121
sidhu
sidhu

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड केस को कौन नहीं जानता हैं इस केस ने देश के लोगों का दिल दहला दिया था अब एक बार फिर यह केस चर्चे का विषय बना हुआ है जी दरअसल सिद्धू मूसेवाला केस को सुलझाने वाले स्पेशल सेल के अधिकारियों को वाई श्रेणी की सुरक्षा दी गई है. अब इन अधिकारियों के घर पर 24 घंटे सुरक्षा मौजूद रहेगी. दरअसल, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने भी सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड को सुलझाने में काफी अहम योगदान दिया था. जिसके बाद स्पेशल सेल में तैनात उन 12 अधिकारियों की सुरक्षा में इजाफा किया गया है जो इस केस के खुलासे में शामिल थे. इनमें स्पेशल सेल के स्पेशल सीपी एचजी एस धालीवाल, डीसीपी स्पेशल सेल मनीषी चंद्र, डीसीपी राजीव रंजन के लिए वाई श्रेणी की सुरक्षा को मंजूरी दी गई है. अब इनके घर पर 24 घंटे सुरक्षा तैनात रहेगी.

दरअसल इसके अलावा मर्डर केस को सुलझाने में तैनात बाकी पुलिसकर्मियों की सुरक्षा भी बढ़ाई गई है. इनके साथ एक कमांडो हर पल मौजूद रहेगा. इन पुलिसकर्मियों के नाम है एसीपी ललित नेगी, एसीपी हृदय भूषण, एसीपी वेद प्रकाश, एसीपी राहुल विक्रम, इंस्पेक्टर रविंद्र जोशी, इंस्पेक्टर सुनील कुमार, इंस्पेक्टर विक्रम दहिया, इंस्पेक्टर निशांत दहिया और इंस्पेक्टर विनोद कुमार.

अगर हम आपको गलियों में देखेंगे तो अच्छा नहीं होगा
बता दें कि पंजाब के गैंगस्टर हरविंदर रिंडा के सहयोगी लखबीर लांड़ा ने सोशल मीडिया के जरिए स्पेशल सेल के अधिकारियों को धमकी दी थी और कहा था कि ‘अगर हम आपको गलियों में देखेंगे तो अच्छा नहीं होगा.’ इसके अलावा यह भी धमकी दी गई थी कि स्पेशल सेल का कोई भी अधिकारी पंजाब में प्रवेश न करे. माना जा रहा है कि स्पेशल सेल के इन अधिकारियों पर हमले की योजना हो सकती है. इसके चलते सुरक्षा बढ़ाई गई है.