SBI चेयरमैन का बड़ा बयान! ब्याज दरों में कटौती के बाद भी नहीं बढ़ रहा निवेश

189

देश के सबसे बड़े कर्जदाता स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया के चेयरमैन रजनीश कुमार ने अलग-अलग सेक्‍टर्स में निवेश नहीं बढ़ने पर चिंता जताई. उन्‍होंने कहा कि ब्याज दरों में कटौती के बावजूद निवेश नहीं बढ़ रहा है, जबकि बैंकों की ओर से कटौती का फायदा ग्राहकों को दिया जा रहा है. उन्‍होंने कहा क‍ि इस साल क्रेडिट ग्रोथ की दर सुस्त रही है, क्योंकि पूंजीगत व्यय सामान्य रफ्तार से नहीं हो रहा है.

रजनीश कुमार ने ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन के 47वें राष्‍ट्रीय प्रबंधन सम्मेलन में कहा कि 2008 में आर्थिक संकट के दौरान बैंकों ने नियमों को आसान बनाकर कर्ज  देने में बढ़ोतरी की थी. इसकी देश को बड़ी कीमत चुकानी पड़ी. इसलिए इस बार बैंक समझदारी से काम ले रहे हैं. आर्थिक विकास की बहाली के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर पर खर्च करना ही एकमात्र उपाय है. उन्होंने कहा कि भारत के पास 10 लाख करोड़ रुपये मूल्य के पांच साल के इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट पाइपलाइन में हैं.