Share Market Closing: तेजी के साथ बंद हुआ शेयर बाजार, सेंसेक्स में 477 अंकों की उछाल

273
sensex-nifty-opening

सप्ताह के पहले कारोबारी दिन को सेंसेक्स और निफ्टी उछाल के साथ बंद हुआ। 30 संवेदी सूचकांक वाला सेंसेक्स आज 477.99 अंक या 0.80% की तेजी के साथ 60,545.61 पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी 151.75 अंक या 0.85% की तेजी के साथ 18,068.55 पर बंद हुआ। सेंसेक्स में आज टाइटन के शेयर में सबसे अधिक 4.29% की तेजी देखने को मिली। वहीं, कोटक बैंक, एचडीएफसी, एनटीपीसी के शेयर भी आज हरे निशान निशान पर बंद हुए। दूसरी तरफ इंडसंइड बैंक के शेयरों में सबसे अधिक 10.71% की गिरावट देखी गई।

1:55 बजे: बाजार में एक बार फिर रौनक लौट आई है। सेंसेक्स 435.04 अंकों की बढ़त के साथ 60,502.66 के स्तर पर पहुंच गया है तो निफ्टी 126.75 अंकों की उछाल के साथ 18,043.55 के स्तर पर कारोबार कर रहा है।

सुबह का हाल

10:48 बजे: शेयर बाजार पर दबाव दिख रहा है। सेंसेक्स101 अंकों की नुकसान के साथ कारोबार कर रहा है। सबसे ज्यादा इंडसइंड बैंक में 11.50 फीसद की गिरावट नजर आ रही है। वहीं, ICICI BANK, SUN PHARMA, HINDUNILVR, HDFC BANK, NESTLE IND, AXIS BANK, RELIANCE लाल निशान पर कारोबार कर रहे हैं।

शेयर बाजार की शुरुआत इस कारोबारी सप्ताह के पहले दिन सोमवार को मजबूत रही। बीएसई का 30 स्टॉक्स वाला प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 318.14 अंक चढ़कर 60,385.76 के स्तर पर खुला तो नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 18040 के स्तर पर।

सुबह सवा नौ बजे बाजार खुलते ही निफ्टी टॉप गेनर में आयशर मोटर्स, टेक महिंद्रा, एलएंडटी, पावरग्रिड व टाइटन के शेयर थे तो टॉप लूजर में इंडसइंड बैंक, डिविस लैब, एचडीएफसी बैंक, सन फार्मा जैसे स्टॉक थे। वहीं सेंसेक्स में टेक महिंद्रा, एलएंडटी, अल्ट्राटेक सीमेंट, टाटा स्टील, मारुति हरे निशान पर तो रिलायंस इंडस्ट्रीज, एशियन पेंट्स, डॉक्टर रेड्डी जैसे दिग्गज स्टॉक्स लाल निशान पर कारोबार कर रहे थे।

इस हफ्ते कैसी रहेगी बाजार की चाल?

स्वस्तिका इन्वेस्टमार्ट लि. के शोध प्रमुख संतोष मीणा ने कहा, इस सप्ताह विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) का रुख तथा अमेरिका और चीन के मुद्रास्फीति के आंकड़े बाजार की दृष्टि से महत्वपूर्ण रहेंगे। वैश्विक स्तर पर संकेतक अभी सकारात्मक हैं। मीणा ने कहा कि बाजार में हालांकि उच्चस्तर पर बिकवाली का दबाव रहेगा। उन्होंने कहा कि बाजार की निगाह वैश्विक वृहद आंकड़ों पर रहेगी। 10 नवंबर को अमेरिकी तथा चीन के मुद्रास्फीति के आंकड़े आने हैं। इसी तरह 12 नवंबर को घरेलू औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) के आंकड़े आएंगे। उन्होंने कहा कि बाजार में अब दूसरी तिमाही के नतीजों का अंतिम चरण शुरू होने जा रहा है। ऐसे में कुछ विशेष शेयरों में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है।