Shahdara Gang Rape: दिल्ली में महिला से कथित गैंगरेप मामले में 4 हिरासत में, DCW का पुलिस को नोटिस

    530
    Shahdara Gangrape case

    दिल्ली के शाहदरा इलाके में बुधवार को एक महिला के साथ कथित सामूहिक बलात्कार के मामले में पुलिस ने 4 लोगों को हिरासत में लिया गया है. शहादरा क्षेत्र के डीसीपी आर साथिया सुंदरम में इस संबंध में जानकारी दी. उन्होंने कहा, इस घटना के बारे में हमें बुधवार को जानकारी मिली, जिसमें आपसी रंजिश के चलते कुछ लोगों ने एक महिला का अपहरण करके उसके साथ कथित सामूहिक बलात्कार की घटना को अंजाम दिया. पुलिस ने बताया कि इस मामले में पीड़ित को हर संभव मदद दी जा रही है और उनकी काउंसिलिंग भी करवाई जा रही है. गौरतलब है कि महिला का अपहरण करके उसे पीटा गया और धमकी भी दी गई. पुलिस ने बताया कि महिला को आरोपी के घर से बरामद किया गया था. आरोपी और पीड़ित दोनों ही पूर्व में पड़ोसी थे. इस मामले में आरोपी का कहना है कि इसी महिला की वजह से पिछले वर्ष नवंबर में उनके बेटे ने आत्महत्या कर ली थी.

    आरोप है कि पीड़ित महिला का अपहर करके लोगों ने उसके बाल काट दिए, उसके कपड़े फाड़ दिए, उसका चेहरा काला किया और फिर उसे शाहदरा इलाके में घुमाया. महिला का कथित तौर पर यौन शोषण भी किया गया थ. पुलिस के अनुसार ये घटना बुधवार की है और आरोपी इलाके में अवैध शराब बेचने वाले बताए जा रहे हैं. आरोप है कि महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म भी किया गया. घटना के एक वीडियो में महिला पर हमला करते हुए दिखाया गया है.

    शाहदरा के पुलिस उपायुक्त आर सथिया सुंदरम ने बताया कि उन्होंने इस सिलसिले में चार महिलाओं को गिरफ्तार किया है. उन्होंने कहा कि संबंधित थाने में यौन शोषण और दुराचार का मामला दर्ज किया गया है. डीसीपी ने कहा, ‘पीड़ित को हर संभव मदद और परामर्श मुहैया कराया जा रहा है. हम मामले को गंभीरता से ले रहे हैं. मामले को देखने के लिए अधिकारियों की एक टीम बनाई गई है, हम जल्द ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लेंगे.’

    जांच से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि पीड़ित महिला पिछले कुछ सालों से शाहदरा इलाके में रह रही है. महिला शादीशुदा है और उसका एक बच्चा भी है. उसके पड़ोस में रहने वाले एक शख्स का उसके साथ एकतरफा अफेयर चल रहा था. उसने कई बार उसकी पहल को ठुकरा दिया था. कुछ दिन पहले युवक ने कथित तौर पर खुदकुशी कर ली थी. उसके परिवार का मानना था कि उसने महिला की वजह से आत्महत्या की है. घटना के बाद से शख्स के परिजन नाराज हो गए और पीड़िता पर सबसे पहले हमला परिवार की महिलाओं ने ही किया.

    पुलिस तथ्यों और आरोपों की जांच कर रही है. महिला का अस्पताल में इलाज चल रहा है. उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है. मामले के जांच अधिकारी ने उसका बयान दर्ज कर लिया है. पुलिस मामले में कानूनी राय भी ले रही है. इस बीच, दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल ने इस मामले में दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है. मालीवाल ने कहा कि राजधानी से यह सबसे दुर्भाग्यपूर्ण घटना है.

    स्वाति मालीवाल ने अपनी टीम के साथ अस्पताल में पीड़िता से मुलाकात की और उसका बयान दर्ज किया. उन्होंने पीड़िता को हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है.