शहबाज शरीफ ने मारी पलटी, कहा- जब तक आर्टिकल 370 की बहाली नहीं भारत से बातचीत नहीं.

152
pak
pak

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बातचीत के लिए पहले संदेश भेजा और फिर चंद घंटों में ही अपनी बात से पलट गए पाकिस्तानी पीएम ओर से आया बयान देता है कि उनकी विदेश दीदी कितनी कमजोर है देश का टॉप लीडर भी किस तरह सेना के दबाव में कार्य करता है शरीफ के बयान के कुछ घंटों बाद ही पीएमओ की तरफ से बयान जारी करके उनकी बात को सिरे से नकार दिया गया पीएमओ ने अपने बयान में कहा प्रधानमंत्री की बातों का गलत मतलब निकाला गया है उन्होंने स्पष्ट किया था कि भारत से तभी बातचीत हो सकती है जब 5 अगस्त 2019 को उठाया गया कदम वापस लिया जाए और जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 और 35A बहाल किया जाए.

पाकिस्तानी पीएमओ को सफाई पेश करनी पड़ी

दरअसल जब शहबाज शरीफ के गिड़गिड़ाना का मामला चर्चा में आ गया और सोशल मीडिया पर छाने लगा तो पाकिस्तानी पीएमओ को सफाई पेश करनी पड़ गई या मुंह की तरफ से कहा गया कि शहबाज शरीफ ने पाकिस्तान की नीति के मुताबिक ही बात कही है कश्मीर के साथ ही कई मुद्दों को हल करना चाहिए लेकिन इसके लिए 5 अगस्त 2019 के पहले की स्थिति बहाल करनी पड़ेगी इस मुद्दे का हल्ला जम्मू कश्मीर की जनता की इच्छा और यू एंड रिवॉल्यूशन के मुताबिक होना चाहिए।

फिलहाल 5 अगस्त 2019 को ही भारत सरकार ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटा दिया गया था इसके अलावा अनुच्छेद 35a भी हटा दिया गया था इसके बाद राज्य को जम्मू कश्मीर और लद्दाख दो हिस्सों में बांट दिया गया इन दिनों पाकिस्तान का यह हाल है कि आर्थिक और राजनीतिक संकट से जूझ रहा है लोगों को खाने के लाले पड़े हैं इसके अलावा तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान बड़ी चुनौती बनकर सामने खड़ा है जिस आतंकवाद को पाकिस्तान पढ़ा देता आया है आज वही नासूर बन गया है.