गिरावट के साथ खुला शेयर बाजार, 1045 अंक निचे आया सेंसेक्स, निफ्टी भी लाल निशान पर

229

आज सप्ताह के पहले कारोबारी दिन यानी सोमवार को शेयर बाजार लाल निशान पर खुला। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 305.03 अंकों (0.61 फीसदी) की नीचे के साथ 49724.80 के स्तर पर खुला। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 82 अंक यानी 0.55 फीसदी की गिरावट के साथ 14785.40 के स्तर पर खुला। आज 688 शेयरों में तेजी आई, 719 शेयरों में गिरावट आई, वहीं 107 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ। बाजार में गिरावट जारी है। सुबह 10.12 बजे सेंसेक्स 1045.92 अंक यानी 2.09 अंक फिसलकर 48983.91 पर और निफ्टी 254.70 अंक यानी 1.71 फीसदी नीचे 14612.65 के स्तर पर था।

बीते वित्त वर्ष में बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 20,040.66 अंक या 68 फीसदी चढ़ा है। कम कारोबारी सत्र वाले बीते सप्ताह में बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 1,021.33 अंक या दो फीसदी चढ़ा। 

शेयर बाजारों की दिशा इस सप्ताह रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा, वृहद आर्थिक आंकड़ों, कोविड-19 संक्रमण के रुख और वैश्विक संकेतकों से तय होगी। विश्लेषकों ने यह राय जताई है। विश्लेषकों ने कहा कि कंपनियों के तिमाही नतीजों का सत्र अप्रैल मध्य से शुरू होगा। ऐसे में इससे पहले बाजार में कुछ एकीकरण देखने को मिल सकता है। इसके अलावा इस सप्ताह विनिर्माण और सेवा क्षेत्र के पीएमआई आंकड़े आने हैं। इससे भी बाजार की धारणा पर असर होगा।

बीते सप्ताह सेंसेक्स की शीर्ष 10 कंपनियों में से आठ के बाजार पूंजीकरण में कुल 1,28,503.47 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी हुई। सबसे अधिक लाभ में आईटी क्षेत्र की कंपनियां टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) और इंफोसिस रहीं। शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही। उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इंफोसिस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, एसबीआई और बजाज फाइनेंस का स्थान रहा।

दिग्गज शेयरों की बात करें, तो आज शुरुआती कारोबार के दौरान इंफोसिस, टेक महिंद्रा, एचसीएल टेक, टीसीएस, हिंदुस्तान युनिलीवर और अल्ट्राटेक सीमेंट के शेयर हरे निशान पर खुले। वहीं नेस्ले इंडिया, बजाज ऑटो, एचडीएफसी, आईटीसी, एनटीपीसी, इंडसइंड बैंक, रिलायंस और आईटीसी के शेयर लाल निशान पर खुले। 

प्री ओपन के दौरान सुबह 9.03 बजे सेंसेक्स 87.95 अंक (0.18 फीसदी) ऊपर 50,117.78 के स्तर पर था। वहीं निफ्टी 8.60 अंक (0.06 फीसदी) ऊपर 14,876 के स्तर पर था।

घरेलू शेयर बाजार में शेयरों का भाव बढ़ने से निवेशकों की संपत्ति में वित्त वर्ष 2020-21 में 90,82,057.95 करोड़ रुपये की वृद्धि हुई। इस दौरान बीएसई 30 सेंसेक्स में 68 फीसदी की वृद्धि हुई। इस अभूतपूर्व तेजी के दौर में सेंसेक्स 20,040.66 अंक या 68 फीसदी लाभ में रहा। कोविड-19 महामारी की वजह से आर्थिक जगत में विभिन्न व्यवधानों और अनिश्चितताओं के बावजूद स्थानीय शेयर बाजार जबरदस्त तेजी में रहा।

वित्त वर्ष 2020-21 में बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का शेयर-मूल्य के आधार पर कुल मूल्यांकन 90,82,057.95 करोड़ रुपये बढ़कर 2,04,30,814.54 करोड़ रुपये तक पहुंच गया। इस साल तीन मार्च को, बीएसई-सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार मूल्य 2,10,22,227.13 करोड़ रुपये के अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया था।

पिछले कारोबारी दिन सेंसेक्स 358.57 अंकों (0.72 फीसदी) की बढ़त के साथ 49867.72 के स्तर पर खुला था। वहीं निफ्टी 102.60 अंक यानी 0.70 फीसदी की तेजी के साथ 14793.30 के स्तर पर खुला था। 

वित्त वर्ष 2020-21 के पहले कारोबारी दिन यानी गुरुवार को शेयर बाजार में बढ़त आई थी। सेंसेक्स 520.68 अंक यानी 1.05 फीसदी ऊपर 50029.83 के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 176.65 अंक यानी 1.20 फीसदी की बढ़त के साथ 14867.35 के स्तर पर बंद हुआ था। शुक्रवार को गुड फ्राइडे के उपलक्ष्य पर बाजार बंद था।