शेयर बाजार में सुस्ती, लगातार दूसरे दिन लक्ष्मी विलास बैंक के शेयर गीरे

266

आरबीआई की पाबंदी झेल रहे लक्ष्मी विलास बैंक के शेयर में लगातार दूसरे दिन बिकवाली देखने को मिली. गुरुवार को शुरुआती कारोबार में बैंक के शेयर ने लोअर सर्किट को छू लिया. फिलहाल, बैंक का शेयर भाव 10 रुपये से भी नीचे आ गया है. आपको बता दें कि रिजर्व बैंक द्वारा लक्ष्मी विलास बैंक से निकासी की सीमा लगाए जाने के बाद निवेशकों में अविश्वास पैदा हुआ है. हालांकि, लक्ष्मी विलास बैंक के रिजर्व बैंक द्वारा नियुक्त प्रशासक टी एन मनोहरन ने कहा है कि जमाकर्ताओं का पैसा पूरी तरह सुरक्षित है. उन्होंने उम्मीद जताई कि बैंक का डीबीएस बैंक इंडिया में विलय नियामक द्वारा तय समयसीमा में हो जाएगा.

बीते कारोबारी दिन की रिकॉर्ड बढ़त के बाद गुरुवार को सेंसेक्स और निफ्टी में मुनाफावसूली देखने को मिली. शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 200 अंक से ज्यादा लुढ़क कर 44 हजार अंक के नीचे आ गया. अगर निफ्टी की बात करें तो 12, 915 अंक के स्तर पर कारोबार करता दिखा. शुरुआती कारोबार में बीएसई इंडेक्स पर एलएंडटी, टाटा स्टील, बजाज फाइनेंस, टीसीएस के शेयर में रौनक देखने को मिली.  

देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने बताया है कि उसके शेयरधारकों ने 16,000 करोड़ रुपये मूल्य तक की शेयर बायबैक योजना को मंजूरी दे दी है. पिछले महीने टीसीएस के निदेशक मंडल ने कंपनी के 5,33,33,333 तक इक्विटी शेयर के बायबैक को मंजूरी दी थी. यह बायबैक 16,000 करोड़ रुपये तक का होगा. बता दें कि विप्रो ने भी 400 रुपये प्रति इक्विटी शेयर पर 9,500 करोड़ रुपये तक के बायबैक कार्यक्रम की घोषणा की है.

सप्ताह के तीसरे दिन बुधवार को भारतीय शेयर बाजार नए रिकॉर्ड के साथ बंद हुआ. बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स दिन में कारोबार के दौरान 44,215 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर तक गया. अंत में सेंसेक्स 227 अंक या 0.52 प्रतिशत की बढ़त के साथ 44,180 अंक के नए उच्चस्तर पर बंद हुआ. सेंसेक्स पहली बार 44,000 के पार बंद हुआ है. इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 64.05 अंक या 0.50 प्रतिशत की बढ़त के साथ 12,938 अंक पर बंद हुआ. यह इसका नया रिकॉर्ड है. दिन में कारोबार के दौरान निफ्टी 12,949 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर तक गया.