यूक्रेन युद्ध के बाद एस जयशंकर करेंगे रूस की पहली यात्रा – यूक्रेन समेत कई मसलों पर करेंगे बातचीत

61
Jaishankar

यूक्रेन युद्ध शुरू होने के बाद से पहली बार भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर रूस की यात्रा पर जा रहे हैं। रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा ने कहा कि यूक्रेन युद्ध के बाद से रूस की अपनी पहली यात्रा के दौरान विदेश मंत्री एस जयशंकर अपने रूसी समकक्ष सर्गेई लावरोव के साथ बातचीत करेंगे। मंत्री 8 नवंबर को मास्को में वार्ता करेंगे जहां वे द्विपक्षीय संबंधों की वर्तमान स्थिति और अंतर्राष्ट्रीय एजेंडे पर चर्चा करेंगे। जयशंकर की प्रस्तावित यात्रा पर विदेश मंत्रालय की ओर से अभी कोई बयान नहीं आया है।

अमेरिका सहित पश्चिमी देश भी भारत की ओर इस उम्मीद से देख रहे हैं कि वह रूस पर दवाब डालकर यूक्रेन युद्ध को खत्म कराने का प्रयास करे। जयशंकर की रूस यात्रा भी इसी उम्मीद के साथ देखी जा रही है। हालांकि अभी तक भारत की तरफ से बयान नहीं आया है। वैसे रूसी बयान के मुताबिक जयशंकर का राष्ट्रपति पुतिन के साथ मुलाकात का कोई प्लान नहीं है। लेकिन इस बात की उम्मीद लगाई जा सकती है कि भारत रूसी विदेश मंत्री को एक बार फिर से साफ लहजों में कह सकता है कि ‘यह दौर युद्ध का नहीं है।’ सर्गेई लावरोव के साथ द्विपक्षीय बैठक में जयशंकर पुतिन के लिए संदेश भिजवा सकते हैं।

फरवरी में यूक्रेन पर रूस के हमलों की शुरुआत के बाद से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रूस के राष्ट्रपति पुतिन और यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की से कई बार बात कर चुके हैं। मोदी ने जेलेंस्की के साथ चार अक्टूबर को फोन पर हुई बातचीत में कहा था कि कोई सैन्य समाधान नहीं हो सकता और भारत शांति के किसी भी प्रयास में योगदान देने को तैयार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here