हाथरस के घटना पर प्रियंका गांधी ने फिर की CM योगी के इस्तीफे की मांग, कहा- मोहरों को सस्पेंड करने से क्या होगा

263
Priyanka Gandhi

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने हाथरस के कथित गैंगरेप के मामले में कुछ अधिकारियों के निलंबन के बाद शुक्रवार को कहा कि ‘मोहरों’ को सस्पेंड करने से क्या होगा, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इस्तीफा देना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि हाथरस के जिला अधिकारी और पुलिस अधीक्षक के फोन रिकॉर्ड सार्वजनिक किया जाना चाहिए ताकि पता चल सके कि किसके आदेश पर पीड़िता एवं उसके परिवार को कष्ट दिया गया। बता दें कि हाथरस मामले में विपक्ष योगी सरकार पर लगातार हमलावर है और कई नेताओं ने उनके इस्तीफे की मांग की है।

प्रियंका की मांग, इस्तीफा दें योगी

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘योगी आदित्यनाथ जी, कुछ मोहरों को निलंबित करने से क्या होगा? हाथरस की पीड़िता, उसके परिवार को भीषण कष्ट किसके ऑर्डर पर दिया गया? हाथरस के डीएम, एसपी के फोन रिकॉर्ड सार्वजनिक किए जाएं। मुख्यमंत्री जी अपनी जिम्मेदारी से हटने की कोशिश न करें। देश देख रहा है। योगी आदित्यनाथ इस्तीफा दो।’ इससे पहले गुरुवार को प्रियंका ने एक वीडियो ट्वीट किया था जिसमें हाथरस के डीएम पीड़िता के परिवार से बात करते हुए नजर आ रहे थे। उस ट्वीट में प्रियंका ने हाथरस के डीएम पर पीड़िता के परिजनों को धमकाने का आरोप लगाया था।

सीएम योगी ने लिया कड़ा फैसला
गौरतलब है कि 19 वर्षीय दलित लड़की से कथित गैंगरेप के मामले में पुलिस अधीक्षक समेत कई अधिकारियों को निलंबित किया गया है। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शुक्रवार को कड़ा रुख अख्तियार करते हुए SIT की रिपोर्ट मिलने के बाद लापरवाही और ढिलाई बरतने के आरोप में पुलिस अधीक्षक विक्रांत वीर, तत्‍कालीन क्षेत्राधिकारी राम शब्‍द, तत्‍कालीन प्रभारी निरीक्षक दिनेश कुमार वर्मा, वरिष्‍ठ उपनिरीक्षक जगवीहर सिंह, हेड मुहर्रिर महेश पाल को निलंबित कर दिया गया है। विनीत जायसवाल को हाथरस का नया पुलिस अधीक्षक बनाया गया है। इस मामले में सभी आरोपियों का नार्को परीक्षण कराने के निर्देश दिए गए हैं।