RBI ने यूनिवर्सल और स्मॉल फाइनेंस बैंक के आवेदन का मूल्यांकन करने के लिए बनाई समिति, ये हैं इस पैनल में शामिल

260
RBI Bank
RBI Bank

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने यूनिवर्सल और स्मॉल फाइनेंस बैंक के लाइसेंस के लिए वित्तीय संस्थानों और कंपनियों के आवेदन का मूल्यांकन करने के लिए एक पैनल यानी स्थायी सलाहकार समिति का गठन किया है. आरबीआई ने सोमवार को इसका गठन किया है. यह समिति रेगुलर बेसिस पर आवेदन करने वाली योग्य कंपनियों और फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस को बैंकिंग का लाइसेंस प्रदान करेगी.

आपको बता दें आवेदन का मूल्यांकन करने के लिए रिजर्व बैंक ने जिस स्थायी सलाहाकार समिति का गठन किया है. उसका चेयरमैन श्यामला गोपीनाथ को बनाया गया है. बता दें श्यामला गोपीनाथ आरबीआई की पूर्व डिप्टी गवर्नर हैं.

मनी कंट्रोल की खबर के मुताबिक, आरबीआई के पूर्व डिप्टी गवर्नर श्यामला गोपीनाथ के साथ इस पैनल में आरबीआई सेंट्रल बोर्ड के डायरेक्टर रेवती अय्यर, नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया के चेयरमैन बी महापात्रा, केनरा बैंक के पूर्व चेयरमैन टीएन मनोहरन को शामिल किया गया है.

एसबीआई के पूर्व एमडी और पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी के पूर्व चैयरमैन हेमंत कॉन्ट्रैक्टर भी इस पैनल के सदस्य होंगे.

यह पैनल इस बात की जांच करेगी कि आवेदन करने वाली संस्था या कंपनी यूनिवर्सल बैंक या स्मॉल फाइनेंस बैंक का लाइसेंस प्राप्त करने के योग्य है या नहीं. इस स्थायी सलाहकार समिति का कार्यकाल 3 साल का होगा.