राम मंदिर शिलान्यास पर केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने खुशी व्यक्त की

100
FILE PHOTO

बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास किया. केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने इसपर खुशी व्यक्त की है. उन्होंने कहा है कि “हमें खुशी महसूस करनी चाहिए कि जिस समस्या के कारण इतनी परेशानी हुई है वह सौहार्दपूर्ण और शांति से हल हो गई है. उन्होंने कहा कि वास्तव में हमें इससे प्रेरणा लेनी चाहिए.”

कर्नाटक के मंत्री के एस ईश्वररप्पा ने कहा है कि अयोध्या के साथ मथुरा और काशी को भी ‘मुक्त’ कराने के बाद वहां पर भगवान कृष्ण और विश्वनाथ के भव्य मंदिर बनाए जाएंगे. अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राम मंदिर की आधारशिला रखे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘मेरी दृढ़ राय है कि आज नहीं तो कल मथुरा और काशी के मंदिरों को भी मुक्त कराया जाएगा और वहां पर भव्य मंदिर बनाए जाएंगे.’’

प्रदेश भाजपा के पूर्व अध्यक्ष ईश्वरप्पा ने कहा कि हिंदू मान्यता के केंद्र अयोध्या, काशी और मथुरा एक तरह से ‘गुलामी’ के प्रतीक थे क्योंकि राम, कृष्ण और विश्वनाथ के मंदिरों को गिराया गया और मस्जिदों का निर्माण किया गया. उन्होंने कहा, ‘‘छह दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद को गिराए जाने के बाद हम लोगों को लगा कि गुलामी के प्रतीक को मिटा दिया गया और अब अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बनाने का फैसला किया गया है.’’

ग्रामीण विकास और पंचायत राज मंत्री ईश्वरप्पा ने कहा कि काशी, मथुरा और अयोध्या को आस्था के केंद्र के तौर पर विकसित करना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘‘काशी और मथुरा में भक्ति का स्थान बनाया जाएगा. वहां भी भव्य मंदिर बनाए जाएंगे वहां से मस्जिदों को हटाया जाएगा.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here