विपक्षी पार्टियों ने केंद्र को लिखा पत्र, कहा- देश में बड़े पैमाने पर चले मुफ्त टीकाकरण अभियान

265

देश की 13 विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने एक साझा बयान में केंद्र सरकार से आग्रह किया है कि कोरोना के प्रचंड वेग को देखते हुए सभी लोगों को मुफ्त में टीका लगाया जाना चाहिए। इस बयान पर सोनिया गांधी, शरद पवार, ममता बनर्जी और उद्धव ठाकरे सहित 13 नेताओं के हस्ताक्षर हैं। तेरह विपक्षी दलों के नेताओं ने रविवार को केंद्र सरकार से अनुरोध किया कि वह कोरोना संक्रमण के अभूतपूर्व रूप से बढ़ते मामलों के मद्देनजर देश में व्यापक स्तर पर मुफ्त टीकाकरण कार्यक्रम शुरू करें।

एक संयुक्त बयान में उन्होंने केंद्र से सभी अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों में निर्बाध आक्सीजन आपूìत सुनिश्चित करने का आग्रह भी किया क्योंकि कोरोना के ब़़ढते मामलों का भार वे ही उठा रहे हैं। साथ ही इन नेताओं ने कहा, ‘जब पूरे देश में महामारी नियंत्रण से बाहर जा चुकी है तो हम केंद्र सरकार का आह्वान करते हैं कि वह पूरे देश में मुफ्त टीकाकरण कार्यक्रम सुनिश्चित करेगी। टीकाकरण के लिए 35,000 करोड़ रुपये के बजटीय आवंटन का इस्तेमाल इसके लिए होना चाहिए।’

बयान पर हस्ताक्षर करने वालों में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, जदएस नेता एचडी देवगौ़़डा, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार, शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख और बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, झामुमो नेता और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, द्रमुक नेता एमके स्टालिन, बसपा प्रमुख मायावती, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव, भाकपा महासचिव डी. राजा, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी, नेशनल कांफ्रेंस नेता फारूक अब्दुल्ला और राजद नेता तेजस्वी यादव शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here