Shraddha Murder: पानी के बिल से आया श्रद्धा मर्डर केस में नया मोड़ – शव धोने के लिए घंटों चलाता था शॉवर आफताब

242
DELHI MURDER

दिल्ली में श्रद्धा हत्याकांड के बाद आरोपी आफताब के सिंगल रूम फ्लैट में पानी के इस्तेमाल के लिए बिल आया है. यह स्थिति उस समय है जब दिल्ली में 20 हजार लीटर पानी प्रत्येक परिवार के लिए फ्री है. यह बिल 20 हजार लीटर से अधिक पानी के इस्तेमाल पर आया है. पुलिस को आशंका है कि आरोपी ने इतना ज्यादा पानी का इस्तेमाल श्रद्धा की हत्या के बाद शव को काटते समय इस्तेमाल किया है. इसके अलावा केमिकल से खून को धब्बों को मिटाने के लिए भी उसने ज्यादा पानी का इस्तेमाल किया.

पुलिस के मुताबिक एक छोटे परिवार के लिए 20 हजार लीटर पानी पर्याप्त होता है. इतना पानी दिल्ली सरकार यहां रहने वाले हरेक परिवार को फ्री देती है. अब चूंकि आफताब के फ्लैट के लिए जल बोर्ड ने 300 रुपये से अधिक बिल भेजा है. इससे जाहिर होता है कि आफताब ने 60 हजार लीटर से अधिक पानी का इस्तेमाल किया है. चूंकि आफताब ने पहले ही कबूल किया है कि उसने बाथरूम में शॉवर के नीचे शव को काटता था. ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि शव काटने के दौरान घंटों तक शॉवर चलने की वजह से पानी की इतनी खपत हुई होगी.

पुलिस के मुताबिक सनकी आशिक आफताब के कबूलनामे में वारदात की पूरी कहानी पहले ही सामने आ चुकी थी. लेकिन इससे जुड़े सबूत बहुत कम थे. ऐसे में पानी के बिल वाला तथ्य पुलिस के बड़े काम आने वाले हैं. पुलिस इस तथ्य का इस्तेमाल अपने चार्जशीट में भी करेगी. इस तथ्य के जरिए पुलिस अदालत में वारदात को प्रमाणित करने का प्रयास करेगी.

आफताब के पड़ोस में रहने वाले कई परिवारों ने बताया कि दिल्ली में अरविंद केजरीवाल की सरकार बनने के बाद से लेकर आज तक किसी का भी पानी का बिल नहीं आया. पहली बार ऐसा हुआ है कि किसी को पानी का बिल भेजा गया है, वह भी 300 रुपये का है. आफताब के मकान मालिक ने बताया कि वह तो घर में खाना भी नहीं बनाता. कपड़े भी वह बाहर से धुलवाता था. ऐसे में आश्चर्य का विषय है कि इतना ज्यादा पानी उसने कहां इस्तेमाल किया.