उत्तर प्रदेश में मेरठ और नोएडा के बाद अलीगढ़ पहुंचा कोरोना का नया स्ट्रेन, 33 वर्षीय व्यक्ति संक्रमित

215

उत्तर प्रदेश में कोरोना के नए स्ट्रेन का संक्रमण अलीगढ़ भी पहुंच गया है। मेरठ और नोएडा के बाद तीसरे जिले में नए स्ट्रेन से संक्रमित मरीज के पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग की चि‍ंता बढ़ गई है। अलीगढ़ में जो 33 वर्षीय व्यक्ति नए स्ट्रेन से संक्रमित पाया गया, वह दुबई से वापस लौटा था। कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद 28 दिसंबर को उसे दीनदयाल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। नए स्ट्रेन की जीनोम सीक्वेंसि‍ंंग के लिए उसका सैैंपल नई दिल्ली भेजा गया था।

दो दिन पहले उसकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने पर उसे छुट्टी भी दे दी गई थी, लेकिन अब जीनोम सीक्वेंसि‍ंंग की रिपोर्ट में उसमें नए कोरोना स्ट्रेन की पुष्टि हुई है। अब उसे दोबारा भर्ती कराया जा रहा है। फिलहाल अब तक यूनाइटेड ङ्क्षकगडम (यूके) व दुबई से लौटे 11 लोगों में नए स्ट्रेन की पुष्टि हुई है। मेरठ में सबसे ज्यादा यूके से लौटे नौ लोग और नोएडा में भी यूके से लौटे एक मरीज में नए स्ट्रेन की पुष्टि हो चुकी है।

मेरठ और नोएडा के बाद अलीगढ़ में भी नए स्ट्रेन से संक्रमित रोगी मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है। प्रदेश में इसका दायरा न बढ़े, इसके लिए नए स्ट्रेन से संक्रमित रोगियों के संपर्क में आए लोगों की सख्ती से कांटेक्ट ट्रेसि‍ंंग कर कोरोना जांच कराई जा रही है। जांच में संक्रमित मिलने पर नए स्ट्रेन का पता लगाने के लिए जीनोम सीक्वेंसि‍ंंग कराई जा रही है। जीनोम सीक्वेंसि‍ंग के लिए नई दिल्ली स्थित इंस्टीट््यूट ऑफ जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बॉयोलॉजी नमूना भेजा जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने निर्देश दिए हैं कि मरीज के भर्ती होते ही जीनोम सीक्वेंसि‍ंंग के लिए नमूना भेजा जाए और जब रिपोर्ट से यह पुष्टि हो जाए कि नया स्ट्रेन नहीं है तभी उसे डिस्चार्ज किया जाए।