पाकिस्तानी नौसेना ने चीन को युद्धपोतों की डिलीवरी का ऑर्डर दिया, भारत की बढाई चिंता

267
pakistan-china space agreement
pakistan-china space agreement

चीन कथित तौर पर पाकिस्तान को अपनी एंटी-शिप मिसाइल CM-501GA बेच रहा है. पाकिस्तानी नौसेना (Pakistan Navy) द्वारा इस्तेमाल किया जाने वाला Z-9 हेलिकॉप्टर (Z-9 helicopter) पर इन मिसाइलों को लगाया जाएगा और इन हेलिकॉप्टरों को 054 A/P युद्धक जहाज पर तैनात किया जाएगा. पाकिस्तान नौसेना के 054 A/P युद्धपोत चीन द्वारा निर्मित किए जा रहे हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक, इन मिसाइलों का निशाना भारतीय युद्धपोत (Indian Warship) होने वाले हैं. भारत और पाकिस्तान (India-Pakistan) के बीच लंबे समय से विवाद चल रहा है.

पाकिस्तान अपने युद्धपोतों के लिए एलवाई-70 एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम खरीदने को लेकर भी चीन से बातचीत कर रहा है. इसने पहले ही निर्माता ALIT से टेक्निकल और बजट प्रस्ताव का अनुरोध किया है. पाकिस्तानी नौसेना ने दो दशक पहले अपने तारिक-क्लास युद्धपोतों के लिए पिछले वेरिएंट LY-60N को खरीदा था. हार्बिन एयरक्राफ्ट इंडस्ट्री ग्रुप हार्बिन Z-9 अटैक हेलिकॉप्टर बनाती है. ये हेलिकॉप्टर पाकिस्तान नौसेना के लिए तैयार किया गया था. चीन हमेशा से ही पाकिस्तान को हथियार मुहैया कराता आया है.

Z-9 हेलिकॉप्टर एक पनडुब्बी रोधी वेरिएंट है. ये हेलिकॉप्टर दुश्मन की पनडुब्बियों को पहचानने, ट्रैक करने और खत्म करने के लिए इसे ASW टॉरपीडो, सेंसर और रडार के संयोजन से लैस किया गया है. पाकिस्तानी नौसेना ने चीन को 054 A/P युद्धपोतों की डिलीवरी का ऑर्डर दिया है. इसने नवंबर 2021 में चीन द्वारा तैयार पहला टाइप 054 A/P गाइडेड मिसाइल फ्रिगेट PNS तुगरिल युद्धपोत तैनात किया था. युद्धपोत मुख्य रूप से एंटी-एयर वॉरफेयर के लिए तैयार किया गया है. हालांकि, ये एंटी-सर्फेस और एंटी-सबमरीन कार्यों को भी अंजाम दे सकता है.