लद्दाख में वार मेमोरियल पर अंकित किए गए गलवान में शहीद हुए 20 सैनिकों के नाम

1063

पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में चीनी सेना के साथ हिंसक झड़प में शहीद हुए भारतीय सेना के 20 जवानों का नाम हमेशा-हमेशाा के लिए अमर हो गया है। गैलवान घाटी में चीनी सेना से लोहा लेते हुए शहीद हुए 20 भारतीय सैनिकों के नाम पूर्वी लद्दाख में वार मेमोरियल पर अंकित किए गए हैं।

शहीद हुए ये 20 सैनिक वे हैं, जिन्होंने भारतीय सीमा की रक्षा के लिए अपने प्राण न्योच्छार कर दिए। यह जानते हुए भी उन्होंने चीनी सेना का डटकर मुकाबला किया कि उनकी संख्या की तुलना में चीनी सेना काफी अधिक हैं।

16 बिहार रेजिमेंट के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल बी संतोष बाबू, गलवान घाटी में पैट्रोलिंग पॉइंट-14 के पास सात घंटे के खूनी संघर्ष में जान गंवाने वाले उन 20 शहीद सैनिकों में से थे, जहां भारतीय सैनिकों ने चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की सेना को भारी नुकसान पहुंचाया था। अधिकारियों ने कहा कि सभी युद्ध में शहीद हुए जवानों के नाम स्मारक पर अंकित होंगे।

लद्दाख की यात्रा के दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सेना के शीर्ष अधिकारियों की मौजूदगी में 16 बिहार के सैनिकों से मुलाकात की थी और उनकी बहादुरी को सलाम किया था।