तीन तलाक कानून पर मुख्तार अब्बास नकवी का बयान कहा – 1 अगस्त को मनाया जाएगा ‘मुस्लिम महिला अधिकार दिवस’

232

“तीन तलाक” को अपराध घोषित किये जाने वाले दिन 1 अगस्त को “मुस्लिम महिला अधिकार दिवस” के रूप में मनाया जायेगा. केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शनिवार को यहां कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने 1 अगस्त 2019 के दिन “तीन तलाक या तलाके बिद्दत” को कानूनी अपराध घोषित किया था. नकवी ने कहा कि “तीन तलाक” के कानूनी अपराध बनाये जाने के बाद बड़े पैमाने पर तीन तलाक की घटनाओं में कमीं आई है. देशभर की मुस्लिम महिलाओं ने इसका स्वागत किया है.

1 अगस्त 2021 को देशभर में विभिन्न संगठनों द्वारा “मुस्लिम महिला अधिकार दिवस” मनाया जायेगा. दिल्ली में 1 अगस्त को “मुस्लिम महिला अधिकार दिवस” पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम में केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी, केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव उपस्थित रहेंगे. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि “तीन तलाक” को कानूनन अपराध बनाकर मोदी सरकार ने मुस्लिम महिलाओं के “आत्मनिर्भरता, आत्मसम्मान, आत्मविश्वास” को पुख्ता कर उनके संवैधानिक-मौलिक-लोकतांत्रिक एवं समानता के अधिकारों को सुनिश्चित किया है.