श्रीलंका के नए प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे बने , बौद्ध मंदिर में ली शपथ

365
Mahinda Rajapaksa
Mahinda Rajapaksa

श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने रविवार को देश के नए प्रधानमंत्री पद की शपथ ली. राजपक्षे ने कोलंबो के ऐतिहासिक बौद्ध मंदिर में प्रधानमंत्री पद की शपथ ली. राजपक्षे की पार्टी श्रीलंका पीपल्स पार्टी (एसएलपीपी) ने देश के संसदीय चुनाव में बड़ी जीत हासिल की है. उत्तरी कोलंबो के केलानिया में राजामह विहाराय बौद्ध मंदिर में महिंदा राजपक्षे को पीएम पद की शपथ दिलाई गई. महिंदा राजपक्षे को उनके छोटे भाई और देश के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे ने शपथ दिलाई.

एसएलपीपी ने देश में 5 अगस्त को हुए आम चुनावों में एकतरफा जीत हासिल की है. राजपक्षे की इस पार्टी को संसद में दो तिहाई बहुमत प्राप्त हुआ है. एसएलपीपी को काफी वक्त से दो तिहाई बहुमत की आवश्यकता थी क्योंकि यह पार्टी संविधान में कुछ जरूरी संशोधन करना चाहती है. संशोधन के बाद देश की सत्ता पर राजपक्षे परिवार की पकड़ और मजबूत हो जाएगी.

महिंदा राजपक्षे ने वोटों के मामले में भी नया इतिहास रचा है. महिंदा को 5 लाख से ज्यादा वोट मिले हैं. श्रीलंका के इतिहास में इतने वोट किसी नेता को नहीं मिले. एसएलपीपी ने देश के 145 संसदीय क्षेत्रों में जीत हासिल की है. गठबंधन के साथ एसएलपीपी को कुल 150 सीटों पर जीत मिली है. इसी के साथ 225 सीटों वाली संसद में राजपक्षे की पार्टी एसएलपीपी को दो तिहाई बहुमत प्राप्त हो गया है.

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी गुरुवार को महिंदा राजपक्षे को चुनावी जीत पर बधाई दी थी. इसी क्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने महिंदा राजपक्षे से फोन पर बात की. इसपर महिंदा राजपक्षे ने ट्वीट कर जवाब दिया और कहा कि फोन पर बधाई देने के लिए शुक्रिया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.