लखनऊ: दरोगा पर लगा छेड़खानी और रिश्वत लेने का आरोप, पीड़िता ने लगाई न्याय की गुहार..

150

विकासनगर थाने में इंस्पेक्टर महेश दुबे ने युवती से दोस्ती के बाद अवैध संबन्ध बनाने और अश्लील वीडियो बनाकर जुल्म ढहने का मामला ठंडा नहीं हो पाया था कि खाकी को शर्मसार करने वाला दूसरा मामला गोसाईगंज थानाक्षेत्र से उजागर हुआ है। जहां जेल चौकी पर फरियाद लेकर पहुंची महिला के साथ दरोगा ने छेड़खानी कर रिश्वत ली और पीड़िता के भतीजे की चौकी में लात-घूसों से पिटाई कर दी। इस सम्बन्ध में पीड़िता ने आलाधिकारी से न्याय की गुहार लगाई है।

चौकी इंचार्ज ने उसके भतीजे को पकड़ लिया

दरअसल गोसाईंगंज थानाक्षेत्र की रहने वाली पीड़िता का आरोप है कि शनिवार की रात मारपीट के मामले में जेल चौकी इंचार्ज ने उसके भतीजे को पकड़ लिया था। पीड़िता को यह बात पता चली तो वह भतीजे को छुड़वाने के लिए जेल चौकी पहुंच गई। आरोप है कि चौकी प्रभारी ने पीड़िता के भतीजे को छोड़ने की बात कह कर उसे चौकी के अंदर बुलाया उससे अश्लील हरकत शुरु कर दी। विरोध किए जाने पर चौकी इंजार्च पीड़िता के भतीजे को जेल भेजने की धमकी देने लगा। मुंह बंद रखने और भतीजे को छोड़ने के लिए दरोगा 25 हजार रुपये की मांग करने लगा।

पीड़िता ने बताया कि आनन-फानन उसने 23 हजार रुपये दरोगा को दिए। बावजूद इसके दरोगा ने उसके भतीजे को नहीं छोड़ा। आरोप है कि दरोगा पीड़िता से अतिरिक्त 20 हजार रुपये की मांग करने लगा। हालांकि ,कुछ घंटे बाद पुलिस ने महिला के भतीजे को छोड़ दिया। इस सम्बन्ध में पीड़िता ने एक वीडियो जारी कर दरोगा के खिलाफ संगीन आरोप लगाए हैं। इसके पीड़िता ने डीसीपी साउथ को लिखित शिकायत दी है।