देश में ओमिक्रोन के खतरे के बीच बढ़ने लगे कोरोना के मामले – 24 घंटे में 9,216 नए केस दर्ज, 391 लोगों की मौत

358
corona-update-today

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना (corona) के 9,216 नए केस सामने आए हैं. रिकवरी रेट की बात करें तो यह 98.35% है. पिछले 24 घंटे में 8,612 लोग कोरोना से ठीक हुए. आंकड़ों के मुताबिक, अभी तक कुल 3 करोड़ 40 लाख 45 हजार 666 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. बता दें 391 लोगों की कोरोना से मौत हुई. जिसके बाद जान गंवाने वालों की कुल संख्या बढ़कर 4 लाख 70 हजार 115 हो गई है. डेली पॉजिटिविटी रेट (daily positivity rate) 0.80% है. वीकली पॉजिटिविटी रेट 0.84% है जो कि पिछले 19 दिनों से 1 प्रतिशत से नीचे है.केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब एक्टिव मामलों की संख्या 99 हजार 976 है.

राष्ट्रव्यापी टीकाकरण मुहिम के तहत अभी तक कोरोना वायरस रोधी टीकों की 125 करोड़ से ज्यादा खुराक दी जा चुकी हैं. कल 73 लाख 67 हजार 230 डोज़ दी गईं, जिसके बाद अबतक वैक्सीन की 125 करोड़ 75 लाख 5 हजार 514 डोज़ दी जा चुकी हैं.स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने इसकी जानकारी दी.भारत के तीन राज्यों में 15 जिले ऐसे हैं जहां केस पॉजिटिविटी रेट 10 फीसदी से ज्यादा है. ये राज्य है मिज़ोरम, केरल और अरूणाचल प्रदेश हैं. मिज़ोरम के 9 जिलों में केस पॉजिटिविटी 10% ज्यादा है, ये जिले आइजोल, चम्फाई, हनहथियाल, लांगटलाई, लुंगलेई, मामित, सैहा, सैतुअल और सेरछिप हैं. वहीं कल देश में 18 जिलों में कोरोना की केस पॉजिटिविटी रेट 5 से 10% के बीच थी जबकि 15 जिलों में 10% से ज्यादा है. वहीं देश में कोरोना की केस पॉजिटिविटी रेट 0.89 फीसदी थी.

ओमिक्रोन की भारत में एंट्री
देश में दो लोग ओमिक्रोन से संक्रमित पाए गए हैं. चिंता की बात ये है कि जिस डेल्टा वैरिएंट ने दूसरी लहर में हजारों लोगों की जान ली थी, ये वायरस उससे भी कई गुना ज्यादा खतरनाक है. स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया है कि भारत में दो ओमिक्रोन के केस कर्नाटक में सामने आए हैं. दोनों संक्रमित पुरुष हैं, जिनकी उम्र 66 साल और 46 साल है.

केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने बताया है कि केरल सरकार ने ओमिक्रोन को देखते हुए सभी ज़रूरी कदम उठाए हैं. हम हवाई अड्डे पर RT-PCR टेस्ट कर रहे हैं. हाई रिस्क देशों से आने वाले यात्रियों का RT-PCR टेस्ट और 7 दिन का होम क्वारंटीन अनिवार्य है. उसके बाद उन्हें दोबारा RT-PCR टेस्ट कराना होगा.दिल्ली में फोर्टिस अस्पताल के डॉक्टर अशोक सेठ ने बताया है कि ओमिक्रोन वायरस सबसे पहले साउथ अफ्रीका में पाया गया. इसमें बहुत सारे म्युटेशन्स हैं. जब वायरस अपनी शक्ल बदलता है तो शायद वो और खतरनाक बन जाए. लोगों को कोविड के सभी नियमों का पालन करना होगा. हमारा देश इससे लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार है.