Kisan Andolan: 18वें दिन किसानों का आंदोलन जारी, प्रदर्शन तेज करने का एलान, आज दिल्ली-जयपुर हाईवे बंद करने की दी चेतावनी

892

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों के आंदोलन का आज 18वां दिन है। कड़कड़ाती ठंड और घने कोहरे के बीच दिल्ली की तमाम सीमाओं पर किसान डटे हुए हैं। हालांकि राजनाथ सिंह से मुलाकात के बाद नोएडा-दिल्ली लिंक रोड पर बैठे किसानों ने वहां धरना खत्म कर दिया है, लेकिन सिंघु और टीकरी समेत अन्य जगहों पर प्रदर्शन अब भी जारी है। अपने आंदोलन को तेज करते हुए संयुक्त किसान आंदोलन के नेता कमल प्रीत सिंह पन्नू ने सिंघु बॉर्डर पर 14 दिसंबर को भूख हड़ताल पर बैठने की घोषणा की है। किसानों ने आज दिल्ली-जयपुर हाईवे बंद करने की भी चेतावनी दी है।

सिंघु बॉर्डर पर किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी है। यहां लगातार किसानों की संख्या बढ़ती जा रही है। एक प्रदर्शनकारी ने बताया कि मैं शनिवार रात को यहां पहुंचा हूं। अभी राजस्थान, पंजाब और हरियाणा से और भी किसान यहां आ रहे हैं। 16 दिसंबर तक सिंघु बॉर्डर पर 500 और ट्रॉलियों की जरूरत पड़ सकती है।

पंजाब के रहने वाले दो जुड़वां भाई आज गाजीपुर में धरनास्थल पर पहुंचे। वे दोनों प्रदर्शनकारी किसानों के बीच गर्म कपड़ों का वितरण कर रहे हैं। उनमें से एक भाई करणवीर ने कहा कि सड़कों पर रहना किसे अच्छा लगता है। यह संघर्ष का समय है। मैं पीएम मोदी का फैन हूं और मुझे विश्वास है कि वह समझेंगे कि किसानों के बिना देश का विकास नहीं हो सकता।