लड़कियों की शिक्षा पर तालिबान के बयान पर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर भड़के जावेद अख्तर..

115
javed
javed

हमेशा सुर्खियों में रहने वाले गीतकार जावेद अख्तर ने अब तालिबान को लेकर भारतीय मुस्लिम पर्सनल बोर्ड पर सीधा निशाना साधा है जावेद अख्तर ने ट्विटर पर लिखा कि तालिबानियों ने इस्लाम के नाम पर सभी महिलाओं और लड़कियों के स्कूल कॉलेजों में शिक्षा प्राप्त करने और नौकरियों पर प्रतिबंध लगा दिया है लेकिन भारतीय मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड और अन्य इस्लामिक विद्वान इसकी निंदा क्यों नहीं करते उन्होंने सवाल पूछा कि चाहिए सभी तालिबान से सहमत हैं

विश्वविद्यालय शिक्षा पर अनिश्चितकालीन प्रतिबंध लगाने का आदेश

दरअसल अफगानिस्तान के तालिबान शासकों ने देश की महिलाओं के लिए विश्वविद्यालय शिक्षा पर अनिश्चितकालीन प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया था इसी बात को निशाना बनाते हुए जावेद अख्तर ने भारत में मुस्लिम लॉ बोर्ड और इस्लामिक विद्वानों पर कड़ा प्रहार किया है तालिबान के महिलाओं की उच्च शिक्षा पर प्रतिबंध लगाने के फैसले पर भारत में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा था कि भारत ने हमेशा गाने स्थान में महिला शिक्षा का समर्थन किया है

नागरिकों के मानवाधिकारों को बनाए रखने का आग्रह किया

फ़िलहाल बागची ने तालिबान से संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव के अनुरूप अपने नागरिकों के मानवाधिकारों को बनाए रखने का आग्रह किया बागची ने कहा में संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव 2593 को याद करना चाहता हूं जो महिलाओं सहित मानव अधिकारों को बनाए रखने के महत्व की पुष्टि करता है और यह संकल्प रोजमर्रा की जिंदगी में महिलाओं की समान और सार्थक भागीदारी का भी आह्वान करता है