जालंधर में भंडारण, वितरण और टीकाकरण के लिए मशीनरी तैयार, शुरुआती दौर में कोरोना वैक्सीन फ्रंटलाइन वर्करों को लगाया जाएगा

258

जिले में कोरोना से राहत के लिए अब वैक्सीन का इंतजार है। इस माह के अंत तक वैक्सीन आने की उम्मीद है। इसके साथ ही प्रशासन भी वैक्सीन के रख-रखान के लिए तैयारियों में जुटा हुआ है। कोरोना वैक्सीन सुरक्षित ढंग से लगाने के लिए जिला प्रशासन ने  भंडारण, वितरण और टीकाकरण के लिए अपनी मशीनरी तैयार कर ली है। शुरुआती दौर में वैक्सीन का डोज फ्रंटलाइन वर्करों को लगाया जाएगा।

डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी ने कहा कि प्रशासन के पास कोरोना वैक्सीन के 12.5 लाख डोज को स्टोर करने की क्षमता है। यह बात उन्होंने प्रमुख सचिव, स्वास्थ्य और परिवार भलाई हुसन लाल के साथ शुक्रवार को एक वीडियो कांफ्रेंस में हिस्सा लेते हुए कही।