ओलंपिक के लिए टोक्यो जाने से पहले भारतीय टीम के सभी सदस्यों का वैक्सिनेशन होगा : आईओए

380

आईओए ने इससे पहले बुधवार को तोक्यो ओलंपिक के लिए जाने वाले सभी राष्ट्रीय (खेल) महासंघों से खिलाड़ियों और अधिकारियों के टीकाकरण का विवरण मांगा था। ओलंपिक खेल 23 जुलाई से शुरू होंगे।

आईओए ने कहा, ‘‘आईओए सुनिश्चित कर रहा है कि उसके माध्यम से तोक्यो ओलंपिक के लिए जाने वाले खिलाड़ियों, तकनीकी अधिकारियों और प्रतिनिधि सदस्यों सहित सभी प्रतिभागी सभी सावधानियों का पालन करें। जापान रवाना होने से पहले टीकाकरण पूरा कर लिया जाएगा।’’

आईओए अध्यक्ष नरिंदर बत्रा और महासचिव राजीव मेहता ने कहा, ‘‘वर्तमान समय में तोक्यो खेलों के लिए जाने वाले हर किसी (एथलीट, तकनीकी अधिकारी और प्रतिनिधि सदस्य) को टीके का पहला डोज लग गया है और दूसरा टीकाकरण प्रोटोकॉल के अनुसार होगा।’’

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने खेलों में भाग लेने के लिए टीकाकरण अनिवार्य नहीं किया है, लेकिन इसके अध्यक्ष थॉमस बाक का मानना ​​है कि खेलगांव के 80 प्रतिशत से अधिक लोगों को टीका लग जाएगा।

अभी तक भारत से विभिन्न खेलों के 90 से अधिक खिलाड़ियों ने एक साल के लिए स्थगित किए गए तोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया है। आईओए ने शनिवार को बताया था कि अभी तक कुल 148 खिलाड़ियों ने कोविड-19 के खिलाफ कम से कम पहला टीका लगवा लिया है। इसमें से 17 ने टीके के दोनों डोज ले लिए है।

आईओए ने कहा कि वो इस बात को सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास करेगा कि भारतीय दल के सभी सदस्य तोक्यो के लिए उड़ान भरने से पहले प्लेबुक (आईओसी और आयोजन समिति द्वारा जारी दिशानिर्देश) में दिए गए आवश्यक कदमों का पालन करें।

उन्होंने कहा, ‘‘तोक्यो ओलंपिक में शामिल सभी लोगों की सुरक्षा आईओए की सर्वोच्च प्राथमिकता है । सभी आवश्यक सावधानियों और दिशानिर्देशों का पालन करने का संकल्प लें। हम आईओए की ओर से कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं। हम आईओसी एवं तोक्यो 2020 आयोजन समिति का हर संभव तरीके से समर्थन करेंगे।’’