केके की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा-बच सकती थी जान अगर सही समय पर मिलता सीपीआर

159
KK DEATH MYSTERY
SINGER KK

सिंगर कृष्णकुमार कुन्नथ उर्फ केके की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ चुकी है और पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर ने बृहस्पतिवार को कहा कि उनकी हृदय धमनियों में कई अवरोध (आर्टरीज ब्लॉकेज) थे और समय पर सीपीआर दिया जाता, तो उनकी जान बच सकती थी। सीपीआर (कार्डियो पल्मोनरी रिससिटैशन) में बेहोश व्यक्ति की छाती पर दबाव दिया जाता है और कृत्रिम सांसें दी जाती हैं, जिससे फेफड़ों को ऑक्सीजन मिलती रहे। इससे दिल का दौरा पड़ने और सांस न ले पाने जैसी स्थिति में व्यक्ति की जान बचाई जा सकती है।

केके का मंगलवार रात दिल का दौरा पड़ने के बाद निधन हो गया था। इससे कुछ घंटे पहले ही उन्होंने कोलकाता के ‘नजरूल स्टेज’ पर एक प्रोग्राम में लाइव परफॉर्मेंस दिया था। डॉक्टर ने बताया, ‘‘ केके की लेफ्ट मुख्य कोरोनरी धमनी में एक बड़ा अवरोध और विभिन्न अन्य धमनियों तथा उप-धमनियों में छोटे अवरोध थे। जनता के सामने प्रस्तुति के दौरान अत्यधिक उत्तेजना के कारण रक्त प्रवाह रुक गया, जिससे उनकी हृदय गति रुक गई और उनका निधन हो गया।

उन्होंने कहा, ‘‘मंगलवार को प्रस्तुति के दौरान, गायक मंच पर घूम रहे थे और कई बार भीड़ के साथ नाच भी रहे थे, जिससे अत्यधिक उत्तेजना पैदा हुई और रक्त प्रवाह रुक गया। इससे उनकी हृदय गति रुक गई।’’ चिकित्सक ने कहा कि अत्यधिक उत्तेजना से कुछ क्षणों के लिए रक्त प्रवाह रुक गया, जिससे कुछ समय के लिए दिल की धड़कन अनियमित हो गई। उन्होंने कहा, ‘‘इस वजह से केके बेहोश हो गए और उनकी दिल की गति रुक गई। अगर उन्हें तुरंत सीपीआर दिया गया होता, तो उनकी जान बच सकती थी।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here