उत्तर-पश्चिम बिहार के इन जिलों में भारी बारिश और आकाशीय बिजली गिरने की चेतावनी, अलर्ट जारी!

451

मौसम विभाग के अनुसार मानसून की अक्षीय रेखा अभी बिहार के डेहरी के ऊपर से झारखंड के धनबाद होते हुए बंगाल की खाड़ी में जा रही है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी से नमी बिहार आ रही है, इसलिए गुरुवार तक बिहार में रुक-रुक कर बारिश होगी।  मंगलवार को सबसे अधिक 70 मिलीमीटर वर्षा फारबिसगंज में हुई वहीं पटना में रात 9 बजे तक 60 मिलीमीटर तक बारिश दर्ज की गई। दोपहर में लगभग एक घंटा तक झमाझम बारिश हुई। इससे शहर में जगह-जगह जलजमाव हो गया। 

बिहार में बारिश ने मंगलवार से रफ्तार पकड़ी है। लगभग पूरे राज्य में बारिश हुई। बुधवार को भी पटना सहित बिहार के अधिकतर हस्सिों में वर्षा होगी। उत्तर-पश्चिम बिहार के जिलों पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, सीवान, सारण, गोपालगंज में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इसके अलावा वज्रपात की भी आशंका है। 

उधर, बारिश के बावजूद लोगों को हवा में नमी के कारण उमस से राहत नहीं मिली। तापमान भी एक से दो डिग्री तक बढ़ा। पटना का अधिकतम तापमान 35 डिग्री रहा, जो सामान्य से दो डिग्री अधिक है। इसी तरह गया का तापमान भी 35.2 डिग्री रहा। यहां भी सामान्य से दो डिग्री तापमान अधिक रहा। हालांकि पूर्णिया में एक डिग्री तापमान कम रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here