IPS विनय तिवारी क्वारंटीन से छूटे लौटेंगे पटना, बिहार DGP ने BMC का किया धन्यवाद

163

सुशांत सिंह राजपूत केस की जांच करने मुंबई आए बिहार के आईपीएस अफसर विनय तिवारी को आखिरकार बीएमसी ने क्वारनटीन से छोड़ दिया गया. वे 5 दिनों तक क्वारनटीन में रहे थे. विनय तिवारी को छोड़ने का फैसला पटना पुलिस की सिफारिश और अफसर के रिटर्न टिकट दिखाने के बाद लिया गया. अधिकारी को छोड़े जाने पर बिहार डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे का रिएक्शन आया है.

बिहार डीजीपी ने ट्वीट कर बीएमसी का धन्यवाद किया. उन्होंने लिखा- माननीय सर्वोच्च न्यायालय की टिप्पणी के बाद बिहार के पुलिस मुख्यालय ने BMC के आयुक्त को दोबारा पत्र लिखकर अपने IPS अधिकारी विनय तिवारी को मुक्त करने के लिए अनुरोध किया था. जिसे स्वीकार करते हुए विनय को मुक्त किया गया है. वे आज शाम को पटना लौट रहे हैं. BMC को धन्यवाद! बता दें, इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने जब अपनी सुनवाई के दौरान अफसर को क्वारनटीन करने पर नाराजगी जाहिर की थी, इसके बाद भी बीएमसी ने अधिकारी को नहीं छोड़ा, तब बिहार डीजीपी खासे नाराज हुए थे.

आईपीएस विनय तिवारी को क्वारनटीन से छोड़ने के लिए बीएमसी ने शर्त रखी है. जिसके मुताबिक, अफसर को 8 अगस्त से पहले का रिटर्न टिकट दिखाना होगा. विनय तिवारी एयरपोर्ट तक प्राइवेट कार में जाएंगे और एसओपी का पालन करेंगे. साथ ही यात्रा के दौरान सभी नियमों का पालन करेंगे. दूसरी तरफ, सुशांत सिंह केस में सीबीआई ने केस दर्ज कर लिया है. जांच टीम का भी गठन हो गया है. उम्मीद है जल्द ही इस केस की गुत्थी सुलझेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here