तुर्की ने किया इराकी सेना पर ड्रोन अटैक, 2 बड़े कमांडरों समेत कई मरे

286
प्रतीकात्मक तस्वीर

इराक की सेना ने मंगलवार को कहा कि तुर्की के ड्रोन हमले में देश के 2 सीनियर सुरक्षा अधिकारियों समेत कई लोगों की मौत हो गई. रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऐसा पहली बार हुआ है जब इराक के उत्तरी हिस्से में कुर्द विद्रोहियों को खत्म करनेवाले तुर्की के अभियान में इराक के बड़े सैन्य अधिकारी मारे गए हैं. इराक की सेना के बयान के अनुसार इरबिल के उत्तरी हिस्से के ब्राडोस्ट क्षेत्र में ड्रोन ने बॉर्डर गार्ड्स के एक वाहन को निशाना बनाया. इस हमले में 2 कमांडर और वाहन के चालक की मौत हो गई.

ब्राडोस्ट के मेयर ने बताया कि बॉर्डर गार्ड्स के दूसरे ब्रिगेड के कमांडर जनरल मोहम्मद रूश्दी और तीसरे रेजिमेंट के कमांडर ब्रिगेडियर जुबैर हाली की इहसान चेलेबी में हमले में मौत हो गई. उन्होंने बताया कि ये क्षेत्र में नई चौकियां बना रहे थे. तुर्की की सेना के अधिकारियों से इस बारे में बयान लेने की कोशिश हुई लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो सका. इराक के विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में इस हमले की निंदा करते हुए कहा गया कि यह इराक की संप्रभुता का उल्लंघन है और इस तरह के लगातार हमले द्विपक्षीय संबंधों की ‘समीक्षा’ करने के लिए उकसा रहे हैं.

तुर्की के रक्षा मंत्री की गुरुवार को होने वाली यात्रा को इराक ने रद्द कर दिया है. इराक के 2 सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि बॉर्डर गार्ड्स के ये कमांडर गुप्त तरीके से कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी (PKK) के सदस्यों से मिल रहे थे और इसी दौरान यह हमला हुआ. तुर्की PKK को आतंकवादी संगठन मानता है और उसने कई अभियानों में उत्तरी इराक में इनके ठिकानों के ऊपर बमबारी की है. सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि इस हमले में 5 अन्य लोगों की मौत हुई. हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि वे सैन्य कर्मी थे या असैन्य नागरिक थे. उत्तरी इराक में PKK के एक अधिकारी ने बताया कि बैठक ब्राडोस्ट में हुई और इस बैठक का उद्देश्य क्षेत्र में स्थिरता लाना था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here