यूक्रेन का प्लेन गिराए जाने के मामले में मुआवजा देने को तैयार हुआ ईरान

188
FILE PHOTO

बीती जनवरी में तेहरान के पास यूक्रेन के एक यात्री विमान को मार गिराए जाने के मामले में ईरान मुआवजा देने के लिए तैयार है। बता दें कि ईरान ने कबूल किया था कि उसकी सेना ने भूलवश यूक्रेनी विमान को मार गिराया था. ईरानी मिसाइलों की चपेट में आकर क्रैश हुए इस विमान में कुल 176 लोग सवार थे और सभी की मौत हो गई थी. ईरान ने कहा है कि वह अंतरराष्ट्रीय कानून के मुताबिक मुआवजे का भुगतान करेगा.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, ईरान के नागरिक उड्डयन संगठन के प्रमुख तौराज देहकानी जंगनेह ने शनिवार को कहा कि उनका देश यूक्रेन के यात्री विमान को मार गिराए जाने के मामले में ईरान मुआवजा देने के लिए तैयार है. तेहरान में अक्टूबर में होने वाले दोनों देशों के विमानन अधिकारियों के बीच नए दौर की बातचीत से पहले उन्होंने यह बात कही है. जंगनेह के हवाले कहा गया, ‘जो चीज बिल्कुल साफ है वह यह है कि ईरान ने अपनी गलती के लिए जिम्मेदारी स्वीकार कर ली है और इसलिए देश पूरा मुआवजा देने को लेकर बातचीत के लिए तैयार है.’

उन्होंने कहा, ‘अंतर्राष्ट्रीय कानूनों के अंतर्गत और बिना किसी भेदभाव के मुआवजे का भुगतान किया जाएगा.’ बता दें कि 8 जनवरी को तेहरान से उड़ान भरने के बाद यूक्रेन का यात्री विमान ईरानी मिसाइलों की चपेट में आ गया था, जिससे उसमें सवार सभी 176 लोग मारे गए थे. इस विमान में ईरान के 82, कनाडा के 63, यूक्रेन के 11, स्वीडन के 10, अफगानिस्तान के 4, जर्मनी के 3 और ब्रिटेन के 3 नागरिक सवार थे. ईरान ने तब कहा था कि उसकी सेना ने मानवीय चूक के चलते ‘अनजाने में’ यूक्रेन के विमान को मार गिराया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here