यूपी समेत इन राज्यों में बारिश के आसार, केरल के 9 जिलों में ऑरेंज अलर्ट

88
weather update today

देश के कई राज्य अभी बाढ़ की चपेट में हैं तो कुछ जगहों पर बारिश का अलर्ट है। केरल समेत दक्षिणी प्रायद्वीपीय भारत में अरब सागर से मध्यम से तेज़ रफ्तार की पश्चिमी हवाएं चल रही हैं. केरल और तटीय कर्नाटक में कई स्थानों पर मध्यम से भारी बारिश होने का अनुमान  है. 

मौसम विभाग के मुताबिक देश की राजधानी दिल्ली और आसपास के राज्यों में 8 अगस्त के बाद से बारिश (Rain) बढ़ने की संभावना है. दिल्ली में 11-12 अगस्त को मध्यम बारिश हो सकती है. मौसम विभाग (IMD) के अनुसार बंगाल की खाड़ी में नया सिस्टम बनने की संभावना है, जिसकी वजह से 9 और 10 अगस्त को हल्की बारिश और 11 और 12 अगस्त को मध्यम बारिश हो सकती है.

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में आज यानी 8 अगस्त 2020 को बारिश होने की संभावना है. मौसम विभाग के अनुसार बिजनौर, चांदपुर, खैर, मथुरा, हाथरस, जट्टारी और आस-पास के क्षेत्रों में अगले कुछ घंटों में बारिश हो सकती है. बता दें कि यूपी में कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. उत्तर प्रदेश के 17 जिलों के गांव बाढ़ से प्रभावित हैं. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक शारदा, राप्ती और घाघरा नदियां अलग-अलग जगहों पर खतरे के निशान को पार कर गई हैं. राज्य के राहत आयुक्त संजय गोयल ने बताया कि अंबेडकरनगर, अयोध्या, आजमगढ़, बहराइच, बलिया, बलरामपुर, बाराबंकी, बस्ती, गोरखपुर, कुशीनगर, लखीमपुर खीरी, मऊ, संत कबीर नगर, महाराजगंज और सीतापुर बाढ़ से प्रभावित हुए हैं.

 8 अगस्त को गुजरात, मध्य प्रदेश, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम के कुछ हिस्सों, उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश, ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल और लक्षद्वीप के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश में कुछ स्थानों पर जबकि पंजाब, हरियाणा में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है.

भारत मौसम विभाग (आईएमडी) ने एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम, कोझीकोड, वायनाड, कन्नूर और कासरगोड सहित 9 जिलों में 9 अगस्त तक के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है.

राजस्थान के बाड़मेर जिले में पिछले 2 दिनों में हल्की बारिश हुई है, जिससे बाद बाड़मेर शहर के निचले इलाके में पानी भर गया है. स्थानीय लोगों का कहना है कि बाड़मेर शहर के सीवरेज नालों की नियमित रूप से सफाई नहीं होने की वजह से हल्की बारिश में ही जलभराव हो जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here