गुंजन सक्सेना की स्क्रीनिंग बंद करने की अपील। महिला आयोग की चेयरपर्सन का बयान

193

फिल्म गुंजन सक्सेना की मुसीबत कम होने का नाम नहीं ले रही है. जब से भारतीय वायुसेना की तरफ से सेंसर बोर्ड को शिकायत की गई है, फिल्म को लेकर लोगों का जोश तो ठंडा पड़ा ही है, इसके अलावा सोशल मीडिया पर फिल्म के मेकर्स को ट्रोल किया जा रहा है. अब क्योंकि ये मामला इतना संवेदनशील है, इसलिए इस पर रिएक्शन भी दिग्गज लोगों से आ रहा है. अब महिला आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने भी इस विवाद पर रिएक्ट किया है. रेखा शर्मा ने सोशल मीडिया पर एक ट्वीट के जरिए गुंजन सक्सेना की स्क्रीनिंग पर रोक की मांग की है. वे अपने ट्वीट में लिखती हैं- अगर ये सच है तो फिल्म के मेकर्स को माफी मांगनी चाहिए और इसकी स्क्रीनिंग पर भी रोक लगनी चाहिए. ऐसी कोई भी फिल्म क्यों देखी जाए अगर उस में भारतीय फोर्स की गलत छवि दिखाई जाए, वो भी तब जब ये सब झूठ हो. अब महिला आयोग का ये रिएक्शन फिल्म के लिए अच्छा नहीं है. पहले से ही विवादों में चल रही ये फिल्म और ज्यादा मुसीबत में फंस सकती है.

मालूम हो कि ये सारा विवाद तब शुरू हुआ जब भारतीय वायुसेना की तरफ से सेंसर बोर्ड को एक चिट्ठी लिखी गई. चिट्ठी में बताया गया कि फिल्म के अंदर भारतीय वायुसेना की गलत छवि दिखाई गई है. वायुसेना में कभी भी लिंग के नाम पर भेद नहीं किया जाता है. दावा यहां तक किया गया कि धर्मा प्रोडक्शन को फिल्म रिलीज से पहले ही कुछ आपत्तियां बताई गई थीं, लेकिन उन पर ध्यान नहीं दिया गया. इस वजह से सोशल मीडिया पर ना सिर्फ फिल्म को ट्रोल किया जा रहा है, बल्कि करण जौहर को भी निशाने पर लिया जा रहा है. पहले से ही नेपोटिज्म की वजह से लोगों का गुस्सा झेल रहे करण जौहर के लिए गुंजन सक्सेना और ज्यादा मुसीबत लेकर आई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here