विदेश मंत्रालय: भारत और चीन LAC विवाद को जल्द सुलझाने पर सहमत

232

विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कुलभूषण जाधव, भारत-चीन वार्ता को लेकर जानकारी दी. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने बताया कि भारत-चीन वर्किंग मकेनिज्म फॉर कंसल्टेशन एंड कोऑर्डिनेशन (डब्ल्यूएमसीसी) की 18वीं बैठक आज आयोजित हुई. इस दौरान सीमावर्ती क्षेत्रों में मौजूदा स्थिति पर चर्चा हुई.

विदेश मंत्रालय ने बताया कि दोनों पक्षों ने इस बात को दोहराया कि दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच हुए समझौतों के अनुसार सीमा पर विवादित क्षेत्रों से विघटन की दिशा में काम करना जारी रखेंगे. दोनों देश मौजूदा समझौतों, प्रोटोकॉल के अनुसार लंबित मुद्दों को तेजी से हल करने के लिए सहमत हुए.

अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि दोनों पक्ष इस बात पर सहमत हुए कि सीमा क्षेत्र में शांति की बहाली द्विपक्षीय संबंधों के समग्र विकास के लिए बहुत आवश्यक है. भारत और चीन ने डब्ल्यूएमसीसी बैठकों सहित वर्तमान में चल रही साझा गतिविधियों को जारी रखने पर भी सहमति जताई.

पाकिस्तान की जेल में कैद कुलभूषण जाधव को लेकर विदेश मंत्रालय ने कहा कि इस मामले में उसका रुख स्पष्ट है. अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि इस मामले में पाकिस्तान को इंटरनेशन कोर्ट के फैसले के अनुसार कार्रवाई करनी चाहिए. जाधव को लेकर हम पाकिस्तान के संपर्क में हैं.

अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि कुलभूषण जाधव मामले में हम अंतरराष्ट्रीय अदालत के फैसले को ध्यान में रखते हुए एक मुक्त और सही ट्रायल की उम्मीद करते हैं. हमने मांग की है कि जाधव का प्रतिनिधित्व एक भारतीय वकील को सौंपा जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here