वित्त सचिव अजय भूषण ने दिए संकेत, मिल सकता है दूसरा प्रोत्साहन पैकेज, कहा- नए स्टिमुलस पैकेज पर काम कर रही सरकार

    491

    कोरोना वायरस से देश में उद्योगों को उबारने और युवाओं को रोजगार मिले इसके लिए सरकार दूसरा राहत पैकेज ला सकती है। वित्त सचिव अजय भूषण पांडे ने इसके संकेत दिए हैं। उन्होंने एक मीडिया एजेंसी से बात करते हुए बताया कि सरकार दूसरे प्रोत्साहन पैकेज पर काम कर रही है।

    उन्होंने बताया कि सरकार लगातार जमीनी स्तर तक स्थिति की निगरानी कर रही है। साथ ही अर्थव्यवस्था के किस क्षेत्र या आबादी के हिस्से को किस समय पर मदद मुहैया कराई जाए इस पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि हम उद्योग निकायों, व्यापार संघों, विभिन्न मंत्रालयों से सुझाव लेते रहते हैं।

    अर्थव्यवस्था की वर्तमान स्थिति के बारे में बात करते हुए, पांडे ने कहा कि अर्थव्यवस्था ठीक हो रही है और निरंतर विकास की ओर बढ़ रही है।  अक्तूबर का जीएसटी संग्रह 105,155 करोड़ रुपये रहा है जो पिछले साल के इसी महीने के लिए सालाना आधार पर 10 प्रतिशत अधिक है। इसके अलावा, देश ने बिजली की खपत, निर्यात और आयात में वृद्धि देखी है।

    भूषण ने कहा कि ई-वे बिल और ई-चालान के साथ ही जीएसटी संग्रह के आंकड़े मिलकर संकेत देते हैं कि अर्थव्यवस्था न केवल सुधार के रास्ते पर है, बल्कि वृद्धि के पथ पर तेजी से लौट रही है। चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-अक्तूबर के दौरान सकल प्रत्यक्ष कर संग्रह पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि की तुलना में 22 प्रतिशत घटकर 4.95 लाख करोड़ रुपये रहा।

    उन्होंने कहा कि अगर हमारे कर संग्रह प्रणाली में सुधार नहीं होता तो महामारी का आर्थिक प्रभाव कहीं अधिक होता। बीते वर्ष हमने फेसलेस मूल्यांकन, फेसलेस अपील, एसएफटी (वित्तीय लेनदेन का बयान), टीडीएस लागू करके नकद निकासी पर रोक जैसे कदम उठाए हैं।