लाल जोड़े में दुल्हन की तरह सजी तुनिषा शर्मा की आखिरी बिदाई में सभी की आंखे नम..

42
tunisha
tunisha

तुनीषा शर्मा तुम इस दुनिया से चली गई लेकिन अपने पीछे कई दर्द छोड़ गई तुनीषा का केस तो अब चलता रहेगा लेकिन उनकी यादें परिवार को दिन-रात परेशान करती रहेंगी तुनीषा 24 दिसंबर को इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह गई थी मंगलवार की शाम उनका अंतिम संस्कार किया गया लाल जोड़े में सजी तुनीषा जाते-जाते हर किसी की आंखें नम कर गई 3 दिन से तुनीषा की बॉडी मोर्चरी में पड़ी अंतिम संस्कार की राह देख रही थी आखिरकार अब उन्हें इस दुनिया की जंजीरों से आजाद किया गया तुनीषा तनाव में थी वह बस चले जाना चाहती थी सारी मुसीबतों और परेशानियों से दूर इसके लिए तुनीषा ने सुसाइड का रास्ता चुना

एंबुलेंस में अंतिम संस्कार की जगह पर लाया गया

तुनीषा को फूलों से सजे एंबुलेंस में अंतिम संस्कार की जगह पर लाया गया जहां सभी ने भीगी आंखों से तुनीषा को अंतिम विदाई दी तुनीषा का अंतिम संस्कार 27 दिसंबर को मीरा रोड स्थित संग्रह में शाम को 4:26 बजे किया गया मौके पर तुनीषा की मां के साथ कई रिश्तेदार दोस्त सभी मौजूद थे तुनीषा को लाल जोड़े में दुल्हन की तरह तैयार किया गया तुनीषा के चेहरे का तेज ऐसा था कि हमेशा के लिए आंखें मूंद लेने के बावजूद हर किसी को अपनी ओर आकर्षित कर रहा था 20 साल की उम्र में अपनी जिंदगी खत्म कर लेने वाली तुनीषा की याद में हर किसी की आंखें नम थी भले ही कुंवारी थी लेकिन उन्हें विदाई देते हुए लाल जोड़े में सजाया गया शायद यही उनकी ख्वाहिश थी कि वह अपने प्यार की दुल्हन बनी तुनीषा को उनके अंकल परमवीर सिंह ने मुखाग्नि दी यह मंजर उनकी मां से देखा ना गया पहले से बेसुध मां बेहोश होकर गिर पड़ी

फ़िलहाल अंतिम संस्कार के वक्त मौत का आरोपी शीजन खान का परिवार भी मौजूद था शीजन की मां और दोनों बहने तुनीषा के बेहद करीबी मानी जाती थी दोनों बहने तुनीषा को देख फूट-फूट कर रो पड़ी वहीं पुलिस की गिरफ्त में है पूछताछ के लिए शीजन को 4 दिन की कस्टडी में भेजा गया था पुलिस का कहना है कि शीजन बार-बार अपने बयान बदल रहा है वह ब्रेकअप की सही वजह नहीं बता पा रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here