EPF स्कीम का दायरा बढ़ा सकती है केंद्र सरकार, वकील, डॉक्टर्स, चार्टर्ड अकाउंटेंट व अन्य भी जुड़ सकेंगे EPFO से।

403

वकील, डॉक्टर्स, चार्टर्ड अकाउंटेंट व अन्य ऐसे ही स्वरोजगार वाले लोग सरकार की इस नये कदम से लाभान्वित हो सकेंगे. खुद का कोई काम करने वाला व्यक्ति भी कर्मचारी भविष्य निधि को सब्सक्राइब कर सकेगा. फिलहाल में यह संगठन (EPFO) करीब 6 करोड़ कर्मचारियों के रिटायरमेंट फंड को मैनेज करता है.

केंद्र सरकार अब अपनी सोशल सिक्योरिटी स्कीम कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) का दायरा स्वरोजगार वाले लोगों तक बढ़ा सकती है. अगर केंद्र सरकार ऐसा कोई कदम उठाती है तो वर्तमान में इस स्कीम के तहत नहीं आने वाले करीब 90 फीसदी लोगों को भविष्य निधि का लाभ मिल सकेगा. वर्तमान में किसी ऐसे संस्थान के कर्मचारी ही EPFO द्वारा संचालित प्रोविडेंट फंड व पेंशन स्कीम को सब्सक्राइब कर सकते हैं, जिसमें कम से कम 10 कर्मचारी काम करते हों.