बौखलाए बिलावल भुट्टो ने भारत के खिलाफ उगला जहर, कश्मीर में G20 की बैठक से पाकिस्तान को लगी मिर्ची..

210

कश्मीर में होने जा रही जी20 बैठक से पाकिस्तान बेचैन है और इसीलिए उनके नेता भारत के खिलाफ लगातार जहर उगल रहे हैं. अब इसी कड़ी में पड़ोसी मुल्क के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी ने रविवार को कहा कि कश्मीर में जी20 बैठक आयोजित करके भारत ‘कश्मीर के लोगों की आवाज को दबाने’ में सफल नहीं होगा. दरअसल, श्रीनगर 22-24 मई तक तीसरी जी20 पर्यटन कार्यसमूह की बैठक की मेजबानी कर रहा है. पहली बैठक फरवरी में गुजरात के कच्छ के रण में और दूसरी अप्रैल में पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी में हुई थी.

दुनिया में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाना संभव नहीं

दरअसल भारत ने पिछले साल दिसंबर में जी20 की साल भर की अध्यक्षता ग्रहण की थी और अब यह सितंबर की शुरुआत में नई दिल्ली में नेताओं के शिखर सम्मेलन की मेजबानी करने के लिए पूरी तरह से तैयार है. पाकिस्तान ने कश्मीर में जी20 टूरिज्म वर्किंग ग्रुप की बैठक आयोजित करने के नई दिल्ली के फैसले पर कड़ा आक्रोश व्यक्त किया है और इसे ‘स्वयं सेवी चाल’ कहा है. डॉन में प्रकाशित खबर के मुताबिक, अपने तीन दिवसीय दौरे पर पाकिस्तान अधिकृत जम्मू-कश्मीर (पीओजेके) में उतरने के बाद मीडिया से बात करते हुए, विदेश मंत्री बिलावल ने कहा, ‘संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों का उल्लंघन करके भारत के लिए दुनिया में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाना संभव नहीं है.’

उन्होंने कहा, ‘ऐसे समय में जब भारत कश्मीर में एक सम्मेलन आयोजित कर रहा है, मुझे पीओजेके में विधानसभा को संबोधित करने के लिए आमंत्रित किया गया है.’ बिलावल ने कहा कि वह कश्मीरी लोगों के साथ एकजुटता व्यक्त करने के लिए बाग जिले में एक विरोध रैली में भी शामिल होंगे. उन्होंने कहा, ‘मेरा मानना ​​है कि जब कोई देश भारत जैसा कदम उठाता है तो उसका असली चेहरा दुनिया के सामने आ जाता है.’