ऊर्जा मंत्री ने बिजली उपकेंद्र का किया लोकार्पण, कहा- एक साल में UP को 24 घंटे बिजली आपूर्ति..

120

लखनऊ की विद्युत आपूर्ति में सुधार के लिए 987.78 लाख रूपए की लागत से नया निर्मित 2×5 एमवीए क्षमता के 33/11 केवी विद्युत उपकेन्द्र दाउदनगर, फैजुल्लागंज का लोकार्पण गुरुवार को प्रदेश के नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने किया। ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने कहा कि बिजली की पुरानी व्यवस्था को बदलने का कार्य किया जा रहा है। विद्युत व्यवस्था में सुधार के लिए ट्रांसफार्मर, फीडर की क्षमता बढ़ायी जा रही है। जर्जर लाइनों व खम्भों और लकड़ी के पोल को हटाया जा रहा है। इसके लिए केन्द्र सरकार की रीवैम्प योजना के माध्यम से तीन चरणों में कार्य होगा। पूरे देश में पहले स्थान पर इसमें हमारे प्रदेश में तेजी से कार्य हो रहा है। इससे विद्युत की एक आदर्श व्यवस्था संचालित होगी और उत्तर प्रदेश में भी एक साल के भीतर 24 घंटे बिजली मिलने लगेगी। उन्होंने लोगों से कहा कि विद्युत व्यवस्था के सुचारू संचालन हेतु प्रतिमाह बिल जमा करें। अपने आस-पास होने वाली बिजली चोरी को रोकने में मदद करें। अधिकारी भी ईमानदारी से कार्य न करें तो उनकी भी शिकायत करें। उन्होंने अधिकारियों से भी कहा कि ईमानदार उपभोक्ताओं को पीड़ित न किया जाए,जो लोग बिजली का उपयोग कर रहे हैं और उपभोक्ता नहीं हैं वे विद्युत कनेक्शन लेकर उपभोक्ता बन जाएं।

यह भी पढ़े : मायावती का समाजवादी पार्टी पर बड़ा हमला, बोली – सपा अपने गिरेबान में झांके

प्रदेश की योगी सरकार विद्युत उपभोक्ताओं को बेहतर विद्युत आपूर्ति और सुविधाएं प्रदान कर उपभोक्ता देवो भवः की नीति को चरितार्थ कर रही है। उपभोक्ताओं को समय पर विद्युत संबंधी जानकारी देने और उनकी समस्याओं के त्वरित समाधान के लिए एक फरवरी से विद्युत उपभोक्ता पहचान व समाधान पखवाड़ा अभियान चल रहा है। प्रदेश के सभी विद्युत उपकेंद्रों पर सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक उपभोक्ता जाकर अपना सम्पर्क नंबर और ई-मेल आईडी अपडेट करा सकते हैं। अभी तक 8 लाख उपभोक्ताओं ने सम्पर्क नं0 देकर अपनी केवाईसी करा ली है। प्रदेश के 3.25 करोड़ उपभोक्ताओं में से मात्र 50 लाख उपभोक्ताओं का ही सम्पर्क नंबर उपलब्ध है। उन्होंने उपभोक्ताओं से कहा है कि इस नई व्यवस्था का हिस्सा बनिए और अपना संपर्क नंबर व ईमेल आईडी देकर विद्युत व्यवस्था को और बेहतर बनाने में सहयोग प्रदान करें। विद्युत उपभोक्ताओं को समय पर विद्युत् सम्बंधी सन्देश भेजने के लिए उनका संपर्क नंबर, ईमेल आईडी होना बहुत आवश्यक है। इससे उन्हें बिल न जमा होने, विद्युत व्यवधान, बिल की जानकारी देने, डिस्कनेक्शन आदि का संदेश मिलेगा। साथ ही उनकी शिकायतों के त्वरित निस्तारण करने तथा बिल भुगतान में सुविधा होगी।इस अवसर पर पॉवर कारपोरेशन के अध्यक्ष एम देवराज, मध्यांचल विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक भवानी सिंह खंगारौत, क्षेत्रीय पार्षद, मण्डलीय महामंत्री, वार्ड अध्यक्ष सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहें ।

एक लाख लोगों को मिलेगी राहत

ऊर्जा मंत्री ने उपकेन्द्र के लोड पैनल, लॉग सीट और स्थापित ट्रांसफार्मर को देखा। इस उपकेन्द्र का 31 मई, 2022 को ऊर्जीकरण किया गया था। उपकेन्द्र के चालू होने से फैजुल्लागंज क्षेत्र के 26 हजार परिवारों के एक लाख लोगों को राहत मिलने के साथ ही लो-वोल्टेज और ब्रेक-डाउन की समस्या से उपभोक्ताओं को मुक्ति मिलेगी। फैजुल्लागंज के पुराने विद्युत उपकेन्द्र के लगभग 5100 उपभोक्ताओं का विद्युत भार अब इस उपकेन्द्र से संचालित चार फीडरों में रहीमनगर डिडौली, ककौली, नीलकंठ तथा दाउदनगर से मिलेगी। नये उपकेन्द्र से 05 हजार उपभोक्ताओं को नया कनेक्शन भी मिलेगा। इससे फैजुल्लागंज के पुराने 2×10 एमवीए$1×5 एमवीए क्षमता के 33/11 केवी विद्युत उपकेन्द्र की अधिभारता कम होगी। साथ ही नये फीडर बनने से फीडरों की लम्बाई भी कम हो जायेगी। इससे इस क्षेत्र के सभी 26 हजार उपभोक्ताओं को लाभ मिलेगा।