बाढ़ और तूफान से तबाही के बाद न्यूजीलैंड में लगाया गया आपातकाल..

223
bhnnews
bhnnews

न्यूजीलैंड में चक्रवात गेब्रिएल की वजह से आए उष्णकटिबंधीय तूफान के बाद राष्ट्रीय आपातकाल घोषित कर दिया गया है। तूफान के कारण हजारों घरों की बिजली गुल हो गयी है और सैकड़ों उड़ानें रद कर दी गयी हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चक्रवात गेब्रियल ने न्यूजीलैंड के उत्तरी द्वीप में तबाही का मंजर ला दिया है। बड़े पैमाने पर बाढ़ के साथ भूस्खलन हुआ है। समुद्री लहरें उमड़ने से समुद्र तट पर अफरातफरी का आलम है। भारी बारिश और तेज हवाओं के कारण हजारों घरों की बिजली गुल हो गयी है। इस कारण विमान सेवाओं का संचालन संभव नहीं हो पा रहा है और सैकड़ों उड़ानें रद कर दी गयी हैं। इस कारण हवाई अड्डों पर भारी भीड़ लगी रही। एयर न्यूजीलैंड की ओर से जानकारी दी गयी कि खराब मौसम की वजह से उड़ाने रद हुई हैं। उम्मीद जताई गयी कि मंगलवार दोपहर बाद कुछ विमान सेवाएं फिर से शुरू करने में सफलता मिलेगी।

तीसरी बार न्यूजीलैंड में राष्ट्रीय आपातकाल घोषित किया गया

दरअसल तूफान के बाद न्यूजीलैंड सरकार ने राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा कर दी है। पिछले कुछ वर्षों में तीसरी बार न्यूजीलैंड में राष्ट्रीय आपातकाल घोषित किया गया है। इससे पहले 2019 में क्राइस्टचर्च आतंकी हमले और 2020 में कोविड महामारी के दौरान राष्ट्रीय आपातकाल घोषित किया गया था। भारी बारिश और तेज हवाओं के कारण हजारों घरों में बिजली नहीं होने के कारण आपातकालीन प्रबंधन मंत्री कीरन मैकअनल्टी ने राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा पर हस्ताक्षर किए। मैकअनल्टी ने कहा कि यह एक अभूतपूर्व मौसमी घटना है, जिसका उत्तरी द्वीप के अधिकांश हिस्सों में बड़ा प्रभाव पड़ रहा है। बाढ़ के पानी और भूस्खलन ने देश भर में कई बस्तियों को काट दिया है। देश के सबसे बड़े शहर ऑकलैंड को भी इस संकट का सामना करना पड़ रहा है। मैकअनल्टी ने कहा कि यह न्यूजीलैंड के लोगों के जीवन के लिए एक वास्तविक खतरे के साथ एक बड़ी आपदा है। उन्होंने मंगलवार को और अधिक बारिश और तेज हवाएं चलने की संभावना जताई। इस कारण आपातकालीन सेवाओं के प्रयास बाधित होने का भी खतरा है। राहत कार्यों में लगे लोगों को व्यापक बाढ़ के साथ फिसलन, क्षतिग्रस्त सड़कों और बुनियादी ढांचे में आई कमी का भी सामना करना पड़ रहा है।

यात्राएं स्थगित करने को कहा गया

न्यूजीलैंड फायर एंड इमरजेंसी सर्विसेज ने कहा कि वेस्ट ऑकलैंड में एक घर गिरने के बाद एक फायर फाइटर लापता है और दूसरे की हालत गंभीर है। दमकल सेवा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी केरी ग्रेगरी के मुताबिक पूरे उत्तरी द्वीप के लिए बीती रात एक कठिन रात रही। सर्वाधिक कठिनाई अग्निशमन व आपातकाल सेवा में जुटे लोगों को उठानी पड़ी लेकिन यह फायर और आपातकाल सेवा के लिए ज्यादा कठिन रही। न्यूजीलैंड की मौसम विज्ञान एजेंसी ने जानकारी दी कि ऑकलैंड के उत्तर में स्थित व्हानगारेई शहर में पिछले 24 घंटों में सौ मिलीमीटर से अधिक वर्षा हुई है। नॉर्थलैंड क्षेत्र में 140 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से हवाएं चलीं जबकि 110 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से हवाएं चलने के कारण ऑकलैंड हार्बर पुल को बंद करना पड़ा। ऑकलैंड और नॉर्थ आइलैंड में कई स्कूल और स्थानीय सरकारी सुविधाएं बंद हो गई हैं। लोगों से फिलहाल अपनी यात्राएं स्थगित करने को कहा गया है।