एकनाथ शिंदे का उद्धव ठाकरे पर तीखा प्रहार कहा – शिवसेना कोई ठाकरे परिवार की प्राइवेट लिमिटेड कंपनी नहीं हैं

807
Eknath Shinde

एक बार फिर से महाराष्ट्र में सियासी पारा चढ़ा हुआ है। एक तरफ उद्धव ठाकरे गुट शिवाजी पार्क में रैली की तो वहीं एकनाथ शिंदे समूह की ओर से भी तैयारी जोरों पर हुई यही नहीं इस बीच बयानबाजी की लड़ाई भी जोरों पर था। एकनाथ शिंदे ने रैली से ठीक पहले कविता के जरिए उद्धव ठाकरे पर तंज कसा है।

दशहरा रैली उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे दोनों के ही लिए बहुत महत्वपूर्ण बन गई थी। आखिर में कोर्ट का आदेश मिलने के बाद शिवाजी पार्की में उद्धव ठाकरे गुट की तो वहीं बीकेसी मैदान में एकनाथ शिंदे गुट की जनसभा का आयोजन किया गया। दोनों ही नेताओं ने एक दूसरे पर तीखे प्रहार किए। उद्धव ठाकर ने जब एकनाथ शिंदे को धोखेबाज बताया तो उधर से जवाब मिला कि शिवसेना कोई ठाकरे परिवार की प्राइवेट लिमिटेड कंपनी नहीं है।

एकनाथ शिंदे ने कहा कि शिवसेना उन शिवसैनिकों की है जिन्होंने खून पसीने एक करके इसे बनाया है। उद्धव ठाकरे पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, तुम जैसे लोगों की यह पार्टी नहीं है जो अपने फायदे के लिए इसे बेच देते हैं। शिंदे ने कहा, गर्व से कहो कि हम हिंदू हैं। मैं मुख्यमंत्री बनने के बाद भी शिवसेना का एक साधारण सा कार्यकर्ता हूं। उन्होंने कहा कि गद्दारी तो 2019 में हुई थी जब बालासाहेब कि विचारों के साथ समझौता करके कांग्रेस के साथ गठबंधन करके सरकार बनाई गई थी।