यूपी को देश का अव्वल राज्य करार देते हुए सीएम योगी ने थपथपाई अपनी पीठ..

158
cm yogi
cm yogi

घरेलू पर्यटन के मामले में यूपी को देश का अव्वल राज्य करार देते हुए सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण होने के बाद इस नगर में पर्यटन 10 गुना बढ़ जाएगा. मुख्यमंत्री ने लखनऊ में इंडियन एसोसिएशन आफ टूर आपरेटर्स (आईएटीओ) के 37वें वार्षिक अधिवेशन को सम्बोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार द्वारा पिछले पांच सालों में किये गये प्रयासों की बदौलत उत्तर प्रदेश घरेलू पर्यटन के मामले में देश का अव्वल राज्य बन गया है.

दरअसल सीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेश में धार्मिक-आध्यात्मिक पर्यटन को लेकर अनंत सम्भावनाएं हैं. उन्होंने कहा, ”हमारे पास दुनिया के सबसे पुराने नगर के रूप में काशी (वाराणसी) है, जो भारत की सांस्कृतिक और आध्यात्मिक राजधानी भी है. हाल ही में श्री काशी विश्वनाथ धाम के उद्घाटन की पहली वर्षगांठ गुजरी है. इससे पहले वाराणसी में प्रतिवर्ष एक करोड़ श्रद्धालु एवं पर्यटक आते थे, मगर इस बार केवल श्रावण मास में ही वाराणसी में एक करोड़ श्रद्धालु काशी पहुंचे.”

भगवान राम के भव्य मंदिर का निर्माण हो रहा
मुख्यमंत्री ने कहा, ”अयोध्या हर किसी के लिये आस्था का केन्द्र है. हर किसी की इच्छा है कि अपने जीवन में कम से कम एक बार अयोध्या जरूर जाएं. अयोध्या में भगवान राम के भव्य मंदिर का निर्माण हो रहा है. जब 2024 में अयोध्या में भगवान श्री राम के मंदिर का निर्माण कार्य पूरा होगा, तब इस नगर में पर्यटन 10 गुना बढ़ जाएगा.”

चाहे देशी हो या विदेशी, हर किसी का सम्बन्ध मथुरा से जुड़ा
मुख्यमंत्री ने कहा, ”इसी तरह हमारे पास वैदिक श्रुतियों की धरती नैमिषारण्य और भगवान राम के वनवास से जुड़ा चित्रकूट भी है. साथ ही उत्तर प्रदेश के पास मथुरा, वृंदावन, गोकुल और बरसाना भी है. चाहे देशी हो या विदेशी, हर किसी का सम्बन्ध मथुरा से जुड़ा है. मथुरा में आध्यात्मिक विकास के साथ-साथ आप सबने वहां का भौतिक विकास भी देखा होगा. केन्द्र और राज्य सरकारों द्वारा 25-30 हजार करोड़ रुपये की लागत से मथुरा-वृंदावन का विकास कराया जा रहा है.”

10 स्थानों पर हवाई अड्डों का निर्माण कार्य कराया जा रहा
सीएम योगी ने प्रयागराज का भी उदाहरण देते हुए कहा कि 2019 में कुम्भ मेले के दौरान 24 करोड़ श्रद्धालु पहुंचे थे, मगर वह आयोजन अब तक के सबसे सुव्यवस्थित कुम्भ के तौर पर याद किया जाता है. आदित्यनाथ ने रामायण, कृष्ण और बौद्ध परिपथों के निर्माण की अपनी सरकार की योजनाओं का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के विंध्याचल और बुंदेलखण्ड क्षेत्रों में इको और हेरिटेज पर्यटन की भी व्यापक सम्भावनाएं हैं. उनका कहना था कि पहले लोग आजमगढ़ के नाम से डरते थे, लेकिन आज वहां विकास कार्य हो रहे हैं. उनके अनुसार आजमगढ़ में जल्द ही हवाई अड्डा बनेगा, इसके अलावा अलीगढ़ और मुरादाबाद समेत 10 स्थानों पर हवाई अड्डों का निर्माण कार्य कराया जा रहा है.

होटलों में पर्यटको के वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था
मुख्यमंत्री ने अधिवेशन में देश भर से आये टूर आपरेटरों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश हर पर्यटक की सुरक्षा और बेहतर कनेक्टिविटी की गारंटी है. उन्होंने कहा ”हम हर जगह होटलों में पर्यटको के वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था करने के लिये लगातार काम कर रहे हैं. इस वक्त उत्तर प्रदेश की पर्यटन नीति देश में सर्वश्रेष्ठ है.” आदित्यनाथ ने इस अवसर पर बुंदेलखण्ड पर आधारित एक पुस्तिका का विमोचन भी किया.